बलरामपुर में पकड़ा गया फर्जी खाद्य सुरक्षा अधिकारी:चाय की पत्ती की क्वालिटी घटिया बताकर भिड़ा, दुकान पर लोगों को देख सिट्टी-पिट्टी हुई गुम, कर चुका है 5 हजार की वसूली

बलरामपुर4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
बलरामपुर में पकड़ा गया फर्जी ख - Dainik Bhaskar
बलरामपुर में पकड़ा गया फर्जी ख

बलरामपुर जिले में पुलिस ने एक फर्जी खाद्य सुरक्षा अधिकारी को हिरासत में लिया है। एक युवक फर्जी खाद्य सुरक्षा अधिकारी बनकर रविवार को कोडरी बाजार में एक होटल पर चाय पीने आया। चाय की पत्ती की क्वालिटी खराब बताकर उसकी जांच-पड़ताल करने लगा। यही नहीं होटल संचालक को जेल भिजवाने की धमकी देते हुए वीडियो भी बनाया। इस दौरान संचालक और युवक के बीच झड़प हो गई। देखते ही देखते वहां दर्जनों लोगों की भीड़ जमा हो गई। सूचना पर पहुंची पुलिस युवक को पकड़कर थाने ले गई। पुलिस युवक से पूछताछ में जुटी है।

पहले भी कर चुका है पांच हजार की वसूली

जिले में तैनात मुख्य खाद्य सुरक्षा अधिकारी विनोद कुमार पांडे ने बताया कि कुछ दिन पहले श्रीदत्तगंज के कांदभारी में विनोद मोदनवाल की दुकान से एक युवक ने खुद को खाद सुरक्षा अधिकारी बताकर पांच हजार की वसूली की थी। व्यापारी के तहरीर न देने पर कोई कार्रवाई नहीं हुई थी, जिससे युवक का हौसला और बढ़ गया। रविवार को कोडरी बाजार इलाके में भी ऐसा ही प्रकरण सामने आया है।

हिरासत में लेकर युवक को थाने ले गई पुलिस

कोडरी बाजार इलाके में चाय की दुकान से वसूली की सूचना मिली थी। हम लोग मौके पर जा रहे थे, लेकिन वहां पहुंचने से पहले ही ललिया थाने की पुलिस युवक को हिरासत में लेकर थाने ले आई। अब पुलिस पूछताछ में ही मामले का खुलासा हो सकेगा कि युवक कौन है और उसका उद्देश्य क्या है। फिलहाल युवक वसूली के कार्य में लिप्त है। उसका नाम श्याम पांडे बताया जा रहा है।

युवक के खिलाफ नहीं मिली तहरीर

वहीं पूरे मामले पर ललिया थाना प्रभारी उपेंद्र यादव ने बताया कि चाय की पत्ती की क्वालिटी खराब होने की बात को लेकर दुकानदार और खुद को खाद्य सुरक्षा अधिकारी बताने वाले युवक के बीच कहासुनी हुई थी। फिलहाल किसी भी प्रकार की तहरीर नहीं आई है। हालांकि दुकानदार का आरोप था कि युवक ने उससे पैसे मांगे, लेकिन इसकी कोई पुष्टि नहीं हो सकी है। अभी युवक के खिलाफ किसी प्रकार की तहरीर नहीं मिली है। यदि तहरीर मिलती है तो युवक के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर उसे जेल भेजा जाएगा।

खबरें और भी हैं...