बलरामपुर में तालाब में मिला महिला का शव:पिता ने पति पर लगाया हत्या कर शव तालाब में फेंकने का आरोप, एसपी से मिलकर की शिकायत

बलरामपुर3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
बलरामपुर में तालाब में मिला महिला का शव। - Dainik Bhaskar
बलरामपुर में तालाब में मिला महिला का शव।

बलरामपुर जिले के गैंसड़ी थाना क्षेत्र के गांव में एक महिला का शव तीन दिन पहले तालाब में तैरता हुआ मिला था। सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव का पोस्टमार्टम कराने के बाद महिला का अंतिम संस्कार करवा दिया था। मंगलवार को मृतका के पिता ने थाने में तहरीर देकर उसके पति पर उत्पीड़न और हत्या का आरोप लगाया है। मृतका के पिता ने कहा कि गैंसड़ी पुलिस ने मामले का संज्ञान नहीं लिया। पीड़ित परिवार ने पुलिस अधीक्षक से मुलाकात कर न्याय की गुहार लगाई है।

पोस्टमार्टम के बाद महिला का कराया था अंतिम संस्कार

बता दें कि गैसड़ी कोतवाली क्षेत्र के बकौली राजपुर गांव के पास स्थित एक तालाब में तीन दिन पहले 34 वर्षीय दुर्गावती की लाश कुछ ग्रामीणों को तैरती हुई दिखाई दी। मृतका के मायकों वालों की सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम करवाने के लिए भेज दिया। पोस्टमार्टम के बाद देर रात महिला का अंतिम संस्कार भी कर दिया गया। अब मामले में मृतका दुर्गावती के पिता की तहरीर पर नया मोड़ आता दिख रहा है।

गांव के तालाब में मिला शव

सिद्धार्थनगर जिले के त्रिलोकपुर थाना क्षेत्र के गदाखउवा गांव निवासी हृदय राम ने बताया कि उनकी बेटी की शादी 10 साल पहले कोतवाली गैसड़ी के राजपुर बकौली में राजू पुत्र पाटेश्वरी के साथ हुई थी। बीते दिन रविवार को सूचना मिली कि उनकी लड़की की लाश गांव के तालाब में पड़ी हुई है। पहुंच कर देखा तो पुलिस को सूचना दी।

मृतका के पति पर लगाया हत्या करने का आरोप

मृतका के पिता हृदय राम ने आरोप लगाया कि पुलिस मौके पर पहुंचकर दबाव देकर लड़की के तालाब में डूबने की तहरीर लिखवाई। शव को कब्जे में लेकर पीएम के लिए भेज दिया गया और देर रात दाह संस्कार भी करवा दिया गया, जबकि उनकी बेटी को उसके पति ने मारकर तालाब में फेंक दिया था।

मुख्यमंत्री हेल्पलाइन नंबर पर दर्ज कराई शिकायत

हृदय राम के अनुसार, स्थानीय कोतवाली द्वारा न्याय न मिलने पर मुख्यमंत्री हेल्पलाइन नंबर 1076 पर शिकायत दर्ज कराई है। पुलिस अधीक्षक हेमंत कुटियाल से मिलकर न्याय की गुहार लगाई है। मृतका के पिता का यह भी आरोप है कि राजू कई बार बेटी के साथ मारपीट चुका था, जिसके बारे में तब भी कोतवाली में तहरीर देकर एफआईआर लिखने की गुहार लगाई गई थी, लेकिन गैंसड़ी पुलिस ने उनकी शिकायत को गंभीरता से नहीं लिया।

मृतका के पिता ने नहीं दी दूसरी तहरीर

इस मामले पर एसएचओ गैंसड़ी उमेश बाजपेयी ने बताया कि मामले में पहले जो तहरीर दी गई थी, उसके हिसाब से शव का पंचनामा करवाकर पोस्टमार्टम करवा दिया गया था और शव का दाह संस्कार भी हो गया था। मृतका के पिता द्वारा फिलहाल दूसरी कोई तहरीर नहीं दी गई है। तहरीर प्राप्त होती है तो जांच करवा कर उचित कार्रवाई की जाएगी।

खबरें और भी हैं...