उतरौला में ब्लॉक प्रमुख ने कंपोजिट विद्यालय को लिया गोद:शैक्षिक गुणवत्ता में सुधार के साथ परिसर को सुंदर व मॉडल स्कूल बनाने का लिया संकल्प

उतरौला9 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

परिषदीय विद्यालयों की स्थिति में सुधार के लिए मुख्यमंत्री के आह्वान पर जनप्रतिनिधि परिषदीय विद्यालय गोद लेकर वहां की स्थिति को सुधारने में लग गए हैं। इस पहल के तहत ब्लाक प्रमुख महिपाल चौधरी ने विकास खंड के बारम कम्पोजिट विद्यालय को गोद लिया है। ब्लॉक प्रमुख प्रतिनिधि ने कहा कि शिक्षा व्यवस्था उन्नत बनाने के लिए मुख्यमंत्री ने सभी जनप्रतिनिधियों को एक-एक स्कूल गोद लेने का आह्वान किया है।

स्कूल को सुंदर, सुरक्षित व सुविधा युक्त करते हुए बनाएंगे माडल स्कूल

स्कूल को गोद लेने के बाद खंड शिक्षा अधिकारी सतीश कुमार, प्रधानाध्यापक जियाउल हक, सहायक शिक्षक अखिलेश कुमार, राजेश कुमार, प्रेम सिंह, श्रीनिवास, शीला देवी के साथ संवाद के दौरान मिले सुझावों के अनुसार उन्होंने स्कूल में अन्य सुविधाएं विकसित करने की बात कही। उन्होंन कहा कि अध्ययन व अध्यापन का माहौल बेहतर करने की दिशा में स्कूल में पढ़ रहे 260 छात्रों व अध्यापकों के लिए अन्य सुविधाएं विकसित की जाएंगी। स्कूल को सुंदर, सुरक्षित व सुविधा युक्त बनाने के लिए कार्य होंगे।

स्कूल में चलेंगी स्मार्ट क्लास

उन्होंने कहा कि स्कूल में बेहतर माहौल बनाया जाएगा। इसके अलावा पेयजल, शौचालय, फर्नीचर, बाउंड्री वाल जैसी बुनियादी सुविधाओं के अलावा स्मार्ट क्लास का भी प्रबंध किया जाएगा। ऑपरेशन कायाकल्प के माध्यम से शीघ्र ही विद्यालय का कायाकल्प कराया जाएगा। विद्यालय के स्टाफ से सीधा समन्वय-संवाद स्थापित करके शिक्षा की गुणवत्ता में भी सुधार हेतु अपना योगदान देने का आश्वासन दिया। स्कूल चलो अभियान का लक्ष्य प्राप्ति, शत प्रतिशत नामांकन सुनिश्चित करने को कहा। बीईओ सतीश कुमार ने कहा कि सभ्य समाज एक शिक्षित वर्ग से बनता है, यदि बच्चे शिक्षित होंगे तो उनके साथ परिवार और समाज शिक्षित होगा। देश विकास और उन्नति तभी करेगा जब उसका हर एक नागरिक शिक्षित होगा।

खबरें और भी हैं...