बांदा के अतर्रा में जलभराव बना मुसीबत:लड़की के पिता बोले- फरवरी में है बेटी की शादी, घर के बाहर जलभराव की समस्या को नहीं सुन रहे अधिकारी

बांदा (अतर्रा)9 दिन पहले
बांदा में लोगों के घर बाहर जलभराव।

सूबे के ग्रामीण क्षेत्राें में लोगों की दुश्वारियां बढ़ती जा रही हैं। जहां एक ओर लोगों को एक्सप्रेस-वे और अच्छी सड़क के सपने दिखाए जा रहे हैं तो वहीं बांदा जनपद के अतर्रा विकासखंड बिसंडा की ग्राम पंचायत पवई की जनता जलभराव और कीचड़युक्त सड़क से आवागमन करने को मजबूर है। ग्रामीण जनता का घर से निकलकर कुछ दूर तक जाना भी दूभर हो गया है। स्थानीय लोगों ने बताया कि यह समस्या कोई नहीं है। पहले भी इसके बारे में जिम्मेदार अफसर और नेताओं को बताया जा चुका है, लेकिन इसके बावजूद अब तक कोई स्थायी समाधान नहीं निकाला गया है।

पक्की सड़क का ग्रामीणों ने किया था विरोध: पूर्व में जब खराब सड़क को लेकर पक्की रोड बनाने की पहल की गई थी जब कुछ ग्रामीणों ने इसका विरोध किया था। लोगों के विरोध के चलते गांव में पक्की सड़क का निर्माण नहीं हो सका जिसके बाद ग्रामीणों की समस्या और विकट हो गई।

पिता ने बयां की समस्या : खराब और जलभराव युक्त सड़क से ग्रामीण किस कदर परेशान हैं इसकी एक बानगी गांव के एक बुजुर्ग ने बयां की। उन्होंने बताया कि 05 फरवरी को बेटी की शादी को है, घर के बाहर जलभराव से मेहमानों को बैठाने की समस्या है। ग्राम प्रधान व सचिव से कई बार कहा जा चुका है लेकिन समस्या समाधान नहीं हुआ।