बबेरू में युवक ने फांसी लगाकर की आत्महत्या:10 दिन पहले राजस्थान से आया था घर, 10 बीघे का था काश्तकार

बबेरू19 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

बबेरू तहसील क्षेत्र अंतर्गत की तिलौसा गांव पर एक 35 वर्षीय युवक ने अपने सुने घर में रस्सी के सहारे से फांसी लगाकर आत्महत्या कर लिया। आत्महत्या का कारण अभी तक स्पष्ट नहीं हो पाया। पुलिस जांच में जुटी हुई है।

मामला बबेरू तहसील क्षेत्र के कमासिन थाना क्षेत्र अंतर्गत तिलौसा गांव का है। जहां का रहने वाला अश्विनी पुत्र हरी प्रसाद तिवारी (35) ने रविवार को अपने घर का दरवाजा बंद कर धन्नी में रस्सी के सहारे से फांसी लगाकर आत्महत्या कर लिया। जब 2 घंटे तक बाहर नहीं निकला तो परिजनों को मोबाइल की घंटी सुनाई दिया, जिससे मृतक के भाई रामस्वरूप ने अंदर झांक कर देखा तो कुछ दिखाई नही दिया। दरवाजा अंदर से बंद होने के कारण किसी तरह सब्बर से जंजीर को खोल कर अंदर देखा तो फांसी पर लटका हुआ था. जिसकी मौत हो चुकी थी।

भाई ने बताया जब से राजस्थान से घर आया है गुमसुम रहता था
वहीं मृतक के भाई रामस्वरूप ने घटना की जानकारी थाने पर जा कर दिया हैं। उधर सूचना मिलते ही मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को फांसी के फंदे से निकालकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। वहीं मृतक के भाई रामस्वरूप ने बताया कि हम 6 भाई थे, जिसमें मृतका अश्विनी सबसे छोटा था। विवाह नहीं हुआ था, 10 बीघा जमीन का काश्तकार था। अभी 10 दिन पहले ही राजस्थान से वापस घर आया था। परिजन व मोहल्ले वालों से किसी भी प्रकार का झगड़ा भी नहीं हुआ था, लेकिन जब से राजस्थान से यहां गांव आया था तब से गुमसुम रहता था।

पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा
इस घटना को देखते हुए कमासिन थाना पुलिस जांच में जुटी हुई है। उधर थाना प्रभारी निरीक्षक उमेश कुमार सिंह के द्वारा बताया गया की अश्विनी (34) ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर लिया है। शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया है। जांच की जा रही है, पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद आगे की कार्यवाही की जाएगी।

खबरें और भी हैं...