बांदा में हार्ट अटैक से किसान की मौत:खेत जोत कर घर लौट रहा था, रास्ते में तबियत हुई खराब

बांदाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
तबियत बिगड़ती देख स्थानीय लोगों ने डायल 112 पर कॉल किया। पीआरवी पहुंची लेकिन तब तक देर हो चुकी थी। - Dainik Bhaskar
तबियत बिगड़ती देख स्थानीय लोगों ने डायल 112 पर कॉल किया। पीआरवी पहुंची लेकिन तब तक देर हो चुकी थी।

बांदा के बबेरू तहसील क्षेत्र अंतर्गत मऊ गांव में एक युवक किसान खेत जोतने के लिए गया हुआ था। वापस लौटते समय रास्ते में हार्ट अटैक आने से मौत हो गई। परिजनों के द्वारा उसे अस्पताल में भर्ती कराया गया। जहां पर डॉक्टरों द्वारा मृत घोषित कर दिया गया।

7 बीघा खेत जोतवाने गया था

बबेरू तहसील क्षेत्र के मरका थाना अंतर्गत मऊ गांव के रहने वाले लाल मोहम्मद खां उम्र 40 वर्ष यह अपने खेतों को ट्रैक्टर से जोतवाने के लिए गया था। ट्रैक्टर से खेत को जोतवाने के बाद घर आ रहा था। तभी रास्ते में अचानक सीने में दर्द हुआ। स्थानीय लोगों ने उसे ट्रैक्टर पर लाद अस्पताल आ रहे थे लेकिन तबीयत ज्यादा बिगड़ गई।

परिजनों ने 112 बुलाई

तबियत बिगड़ती देख स्थानीय लोगों ने डायल 112 पर कॉल किया। पीआरवी पहुंची लेकिन तब तक देर हो चुकी थी। पुलिस कर्मी किसान को स्थानीय बबेरू सामुदायिक केंद्र लेकर चले गए। जहां पर पुलिसवालों ने उसे डॉक्टर को दिखाया। हालांकि, डॉक्टर ने उसे मृत घोषित कर दिया।

दो बच्चों को अकेला छोड़ गया किसान

मौत की खबर सुनकर परिवार में कोहराम मच गया हैं। मृतक की पत्नी शहरुन निशा का रो रो कर बुरा हाल है। मृतक एक लड़का 5 वर्ष और लड़की 3 वर्ष है। परिजनों ने बताया मृतक के पास 7 बीघा जमीन है। जिसको जोतवाने के गया था। तभी घटना हो गयी। वहीं मरका थाना पुलिस के द्वारा शव का पंचनामा भरकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है। आगे की कार्यवाही की जा रही है।