छेड़खानी के झूठे मुकदमे में फंसाने का आरोप:बांदा में पीड़िता परिवार ने SP से लगाई न्याय की गुहार, कहा- निष्पक्ष जांच करे पुलिस

बांदाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

बांदा में छेड़खानी के झूठे मुकदमे में फसाए जाने के चलते पीड़ित परिवार ने आज पुलिस अधीक्षक कार्यालय पहुंचकर न्याय की गुहार लगाई। कहा कि महिला द्वारा पैसों की मांग को पूरा न करने पर छेड़खानी का झूठा आरोप लगाकर फंसाया जा रहा है, जिसकी निष्पक्ष जांच की जाए।

बता दें, मामला गिरवा थाना क्षेत्र के खेरवा ग्राम का है। जहां पर एक महिला द्वारा छेड़खानी के मुकदमे में फसाए जाने को लेकर पीड़ित परिवार के लोगों ने आज पुलिस अधीक्षक कार्यालय पहुंचकर न्याय की गुहार लगाई। साथ ही निष्पक्ष जांच कराने की मांग की। उनका कहना है कि गांव की महिला के द्वारा पैसों की मांग को पूरा न करने के चलते छेड़खानी का मामला दर्ज कराया गया है।

उन्होंने बताया कि गांव के सभी लोग महिला के चरित्र से बखूबी परिचित हैं। महिला कुचबंधिया जाति की है। इस तरह के आरोप लगाकर रुपए ऐंठती है। बाद में समझौता करके रुपए लेती है। उन्होंने आगे बताते हुए कहा, मेरे भाई की पत्नी रोजगार सेवक के पद पर कार्यरत है। महिला बिना काम किए हुए रुपए अपने खाते में व अपने पति के खाते में डलवाना चाहती थी।

उसकी मांग को मना करने के बाद महिला ने छेड़खानी का झूठा आरोप लगाते हुए मामला दर्ज कराया है, जिसकी निष्पक्ष जांच कराने के लिए पीड़ित परिवार के लोग आज पुलिस अधीक्षक की चौखट में पहुंचे। प्रार्थना पत्र के माध्यम से SP से मांग की है कि मामले की जांच करके बेगुनाह को न्याय मिले और गुनाहगारों के खिलाफ कठोर कार्रवाई की जाए।