DM ने जल व बिजली संकट पर बुलाई बैठक:बांदा में भीषण गर्मी में बिजली कटौती से जनता है परेशान, डीएम बोले- अधिकारी जल्द से जल्द निकाले कोई रास्ता

बांदा3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

बांदा में बढ़ती भीषण गर्मी और के चलते पेयजल और बिजली समस्या से निपटने के लिए डीएम अनुराग पटेल ने अपने आवास कैंप कार्यालय में दोनों विभाग के अधिकारियों की बैठक ली। जिसमें जनपद में बिजली और पानी की समस्या से निपटने के लिए जरूरी दिशा निर्देश दिए।

समस्या लेती जा रही विकराल रूप

जिले में इस वक्त गर्मी की मार झेल रहा है। जिसके चलते शहर में बिजली पानी की समस्या विकराल रूप लेती जा रही है। इससे निपटने के लिए दिनों विभाग के अधिकारियों को जरूरी दिशा निर्देश दिया गया है। साथ ही जनता को किसी तरह बिजली पानी की समस्या ने हो इसके लिए अधिकारी भ्रमण शील रहे।

लापरवाही करने वालों के खिलाफ होगी कार्रवाई

वहीं डीएम अनुराग पटेल ने बताया की लगा तार जानकारी मिल रही है की शहर में कई जगह पानी और बिजली की किल्लत हो रही है। अगर अधिकारी इस गर्मी में जनता के साथ लापरवाही करता है। उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जायेगी। बिजली कटौती को लेकर मिली शिकायत पर डीएम नाराजगी व्याप्त की और संबंधित अधिकारी के ऊपर कार्यवाही की बात कहीं है। वही अवर अभियंता बिजली चित्रकूट धाम मंडल ने बताया की रवि गौतम को उप खंड अधिकारी एसडीओ चिल्ला रोड़ तुलसी नगर द्वारा कार्य न लिए जाने पर तत्काल प्रभाव से हटाते हुए।दीपक कुमार सहायक अभियंता मीटर को चार्ज दे दिया गया है।

आम जनमानस को न होने पाए कोई समस्या

वहीं डीएम ने कहा की वर्तमान में भीषण गर्मी को देखते हुए 10 टीमें से अधिक लगाई जाए ताकि शहर में विद्युत समस्या आती है तो उसको तत्काल ठीक किया जा सके।डीएम अनुराग पटेल ने कहा कि बिजली/पेयजल आपूर्ति की निरन्तर शिकायतें प्राप्त हो रही है कि विद्युत विभाग के अधिकारी/कर्मचारी द्वारा जनमानस के विद्युत समस्या हेतु किये गये फोन कॉल को रिसीव नहीं करते है। डीएम द्वारा निर्देशित किया गया कि आम जनमानस की समस्याओं को दृष्टिगत रखते हुये उनके फोन कॉल रिसीव करें तथा उनकी समस्या के निराकरण के सम्बन्ध आश्वस्त भी करें। यदि भविष्य में कभी अधोहस्ताक्षरी के समक्ष फोन न उठाये जाने के सम्बन्ध में शिकायतें प्राप्त होती है तो सम्बन्धित के विरूद्ध कड़ी कार्यवाही की जायेगी।