बांदा में हुई घरौनी का वितरण:प्रत्येक तहसील से दस लाभार्थी भू स्वामियों को मिला मालिकाना हक

बांदाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
बांदा - Dainik Bhaskar
बांदा

बांदा में डीएम अनुराग पटेल द्वारा स्वामित्व योजना के अंतर्गत आवासीय अभिलेख घरौनी का वितरण किया गया। जिसमें प्रत्येक तहसील से दस लाभार्थी भू स्वामियों को शामिल करके उन्हें मालिकाना हक दिया। कार्यक्रम का आयोजन कलेक्ट्रेट सभागार में किया गया था।

स्वामित्व योजना है सीएम की महत्वकांक्षी योजना
प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आज अपनी महत्वकांक्षी योजना के तहत ऑनलाइन ग्रामीण आवास घरौनी योजना का लखनऊ से वितरण किया गया। बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा इस योजना का 24 अप्रैल 2021 प्रारंभ की गई थी। जिसके बाद से ही इस योजना की बराबर मॉनिटरिंग की जा रही है जिससे योजना को सुचारू ढंग से चलाया जाए इसी के तहत जनपद बांदा में 9 ग्रामों के भूखण्ड स्वामियों को ग्रामीण आवासीय अभिलेख (घरौनी) का वितरण डीएम बांदा अनुराग पटेल के द्वारा कलेक्ट्रेट सभागार में किया गया। अभी तक इस योजना के तहत प्रदेश में 34 लाख से अधिक प्रदेश के निवासियों को घरौनी का वितरण किया जा चुका है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा इस योजना का 24 अप्रैल 2021 प्रारंभ की गई थी
डीएम अनुराग पटेल ने कहा कि आज समस्त जनपद में 2705 भूस्वामियों को घरौनी का वितरण किया गया है जनपद की प्रत्येक तहसील से 10-10 लाभार्थियों को शामिल किया गया है जिसमें जिला मुख्यालय पर 50 भूस्वामियों को आज घरौनी का वितरण कर उन्हें मालिकाना हक दिया गया है। उन्होंने यह भी बताया कि मण्डल से 10 किसान मुख्यमंत्री के हाथों द्वारा घरौनी प्राप्त किए हैं। इसी में अपने जनपद के 04 किसान भी शामिल हैं।

ले सकेगा बैंक से लोन
डीएम ने यह भी कहा कि इस योजना से किसानों को बैंको से ऋण लेने और अन्य वित्तीय लाभ लेने के लिए अपनी सम्पत्ति को वित्तीय सम्पत्ति के रूप में उपयोग करने में सक्षम बनाएगा। इसके अलावा यह ग्राम स्वामियों को सम्पत्ति अभिलेख जारी करने से ऋण एवं अन्य वित्तीय सेवाओं की खरीद के लिए ग्रामीण आवासीय संपत्तियों का मौद्रीकीकरण सुविधाजनक बनेगा। इससे गांव में बसे हुए ग्रामीण क्षेत्रों में घरों में रहने वाले गांव के ग्रह स्वामियों को अधिकार अभिलेख उपलब्ध कराया जायेगा।

ये सभी लोग रहे उपस्थित
डी एम अनुराग पटेल ने स्वामित्व अनुपम तिवारी, हनुमानदीन, राजेन्द्र प्रसाद, गोरे लाल, राजा यादव, रामकिशोर सिंह, रामचन्द्र, आंनद कुमार, संतोष कुमार, अशोक कुमार, रामसजीवन, रामकिशोर, रामसजीवन, बिन्दा, शिवचन्द्र, विजय बहादुर, कामता प्रसाद, जगप्रसाद, कामता प्रसाद, रामशरण, जगरूप, रामश्री पत्नी रामकिशोर, सुनीता पत्नी रामधीन, रमाशंकर, परशुराम, भैरमदीन, अभय सिंह, गंगादीन, सहित आदि किसानों को घरौनी का वितरण किया गया।