बांदा में पानी न मिलने से ग्रामीण परेशान:10 दिन में एक बार ही आ रहा पानी, भीषण गर्मी में पेयजल की समस्या से जूझ रहे ग्रामीण

बांदा13 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

बांदा के मटौंध में पानी की भीषण समस्या से ग्रामीण परेशान हैं। पेयजल को लेकर बूंद-बूंद पानी के लिए तरस रहे हैं। जब पानी की सप्लाई आती है तो बदबूदार और गंदा पानी आता है, जिससे तमाम तरह की बीमारियां फैलने की आशंका रहती है। ग्रामीणों ने बताया, बीते 10 मई से लगातार पानी के लिए परेशान हो रहे हैं। जल निगम चित्रकूट धाम मंडल बांदा में पानी की जलापूर्ति नहीं कर रहा है।

बांदा का जल संस्थान कहीं न कहीं डीएम अनुराग पटेल की मेहनत पर पलीता लगा रहा है। डीएम पिछले कई महीने से जल संस्थान को लगातार मीटिंग के माध्यम से निर्देश देते आ रहे हैं कि गर्मी से पहले पानी की व्यवस्था में सुधार कर लें, ताकि जनता को पानी की समस्या न होने पाए, लेकिन जल संस्थान के कान में जूं तक नहीं रेंग रही है।

ग्रामीणों ने बताया, गांव में पानी की भीषण समस्या है। जिसके चलते कई बार अधिकारियों को अवगत कराया जा चुका है, लेकिन कोई सुध नहीं ले रहा है। पानी 10 दिन में एक बार ही आ रहा है। वो पानी भी पीने योग्य नहीं रहता है। जबकि जल संस्थान घर-घर पानी पहुंचाने का दावा करता है।

वहीं ग्रामीणों का कहना है, पानी न मिलने के चलते काफी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। पानी के लिए दूर जाकर लाना पड़ रहा है। जिससे घर के बाकी काम नहीं हो पा रहे हैं। एक तो ऊपर से भीषण गर्मी उस पर भी पानी न मिलना एक बड़ी समस्या बनी हुई है।

खबरें और भी हैं...