श्रीराम महायज्ञ की पूर्णाहुति:विशाल भंडारे में उमड़ा श्रद्धालुओं का जनसैलाब, हजारों श्रद्धालुओं ने प्रसाद किया ग्रहण

पैलानी, बांदा4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

पैलानी के खपटिहाकला में 19 अप्रैल से लेकर 27 अप्रैल तक श्रीराम महायज्ञ में भागवत कथा के साथ रासलीला का आयोजन किया गया। जिसमें देश के जाने-माने शंकराचार्यों ने श्रीराम महायज्ञ में पहुंचकर अपनी वाणी से धर्म का उपदेश दिया। रासलीला में भी वृंदावन के बरसाना धाम से आई हुई 21 सदस्यीय कलाकारों की टीम ने उत्कृष्ट अभिनय कर दर्शकों का मन मोहा।

आचार्य भगवती प्रसाद शुक्ल कानपुर द्वारा 27 अप्रैल को श्रीराम महायज्ञ की पूर्णाहुति की गई। जिसमें नौ कुंडीय महायज्ञ यजमानों से यज्ञ की आहुति कराई गई।

विशाल भंडारे में उमड़ा जनसैलाब

श्रीराम महायज्ञ की पूर्णाहुति के बाद आज विशाल भंडारे का आयोजन किया गया। जिसमें आसपास के गांवों के श्रद्धालुओं ने नौ कुंडीय वेदी की परिक्रमा लगा कर प्रसाद ग्रहण किया। श्रीराम महायज्ञ के बाद आयोजित विशाल भंडारे में बांदा ,हमीरपुर, महोबा ,चित्रकूट ,कानपुर ,फतेहपुर, के अलावा बाहरी प्रदेशों मध्य प्रदेश, करनाल हरियाणा, आदि प्रदेशों के श्रद्धालुओं ने पहुंचकर प्रसाद ग्रहण किया।

श्रीराम महायज्ञ के विशाल भंडारे में खपटिहाकला के नव युवकों के अलावा करनाल हरियाणा से आए हुए 50 युवाओं ने हजारों श्रद्धालुओं को प्रसाद ग्रहण कराया।

ब्रम्हवर्त पीठाधीश्वर जगतगुरु शंकराचार्य स्वामी मुनीशाश्रम जी महाराज ने कहा कि वह दूसरी बार आयोजन करा रहे हैं। इसके पूर्व 1987 में सहस्त्र चंडी महायज्ञ कराया था।

खबरें और भी हैं...