हैदरगढ़ में तेंदुए की चहलकदमी से दहशत:जंगलों में कांबिंग कर रही वन विभाग की टीम, इलाके में अलर्ट

हैदरगढ़8 दिन पहले

बाराबंकी की तहसील हैदरगढ़ थाना सुबेहा क्षेत्र के शरीफाबाद गांव में पिछले 1 वर्ष से जंगल में तेंदुआ होने के बात ग्रामीणों द्वारा कही जा रही है। कई बार तो कुछ ग्रामीणों ने खेतों के आसपास इस जंगली जानवर को टहलते भी देखा है लेकिन इसके बावजूद उसे पकड़ा नहीं जा सका है।

यह जानवर भी इतना चालाक है कि जहां पर इंसानों की संख्या ज्यादा होती है वहां पर यह नहीं देखा देखा जाता है अक्सर रात में ही यह शिकार के लिए इधर-उधर घूमता है। पिछले वर्ष भी एक बकरी व मावेशी के बच्चे को अपना शिकार बना चुका है। हालांकि वन विभाग के क्षेत्रीय दरोगा अनुज कुमार सिंह लगातार जंगलों में कांबिंग कर रहे हैं। उनका कहना है कि अभी तक ऐसे किसी भी जंगली जानवर को नहीं देखा गया लेकिन ग्रामीणों की बातों के आधार पर इस जंगली जानवर को ढूंढने का प्रयास किया जा रहा है।

लोगों को जंगली जानवर अर्थात तेंदुए से सतर्क रहने के लिए भी चेतावनी दे दी जा चुकी है। अचानक से तेंदुआ निकलने से क्षेत्र में दहशत फैल गई है जिससे स्थानीय नागरिक व किसानों में डर का माहौल व्याप्त हो गया है। वहीं लोगों का कहना है कि तेंदुए ने एक बंदर को भी अपना शिकार बनाया था जिसका शव क्षत-विक्षत अवस्था में जंगल में पड़ा मिला था।

ग्रामीणों ने इसकी सूचना वन विभाग को दी थी वन विभाग ने अज्ञात जंगली जानवर की सूचना मिलते ही क्षेत्र के वन दरोगा अपनी टीम के साथ सही पहुंचे। जहां पर बीती देर रात तक उन्होंने पूरे जंगल में कांबिंग किया लेकिन कोई पता नहीं चला। उन्होंने ग्रामीणों को सतर्क रहने की सलाह दी है जो पदचिन्ह मिले हैं। उन्हें अधिकारियों को भेज दिया गया है। साथ ही जंगल मे कांबिंग लगातार की जा रही है।

खबरें और भी हैं...