बाराबंकी...डांट से नाराज जीजा ने की साले की हत्या:एक साल पहले अपहरण कर मार डाला था, पुलिस ने हत्यारोपी को किया गिरफ्तार

बाराबंकी7 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
पुलिस ने लगभग एक साल बाद घटना का खुलासा कर आरोपी जीजा और हत्या में शामिल उसके दोस्त को गिरफ्तार किया है। - Dainik Bhaskar
पुलिस ने लगभग एक साल बाद घटना का खुलासा कर आरोपी जीजा और हत्या में शामिल उसके दोस्त को गिरफ्तार किया है।

बाराबंकी में पिछले साल अपहरण के बाद हुई एक युवक की हत्या का पुलिस ने खुलासा कर दिया है। युवक की हत्या उसके ही जीजा ने की थी। जिसे पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। आरोपी जीजा पत्नी से विवाद के बाद साले और ससुर की डांट खाने से नाराज था। इसी के चलते आरोपी जीजा ने साले की हत्या की साजिश रची और अपने दोस्त के साथ मिलकर उसको मौत के घाट उतार दिया। आज पुलिस ने लगभग एक साल बाद घटना का खुलासा कर आरोपी जीजा और हत्या में शामिल उसके दोस्त को गिरफ्तार किया है।

शराब पीने के बाद कर दी हत्या

हैदरगढ़ कोतवाली क्षेत्र के रहने वाले 24 साल के धीरू की हत्या किसी और ने नहीं बल्कि उसके ही जीजा और उसके दोस्त ने की थी। जो जनपद लखनऊ के नगराम थाना क्षेत्र के रहने वाले हैं। पुलिस ने वारदात का खुलासा करते हुए बताया कि धीरू को पहले तो उसके जीजा अनूप और उसके दोस्त विमलेश ने फोन करके उसे घर बुलाया और फिर और दोनों उसके साथ शराब पीने गए और वहीं पर दोनों ने उसकी हत्या कर दी। और शव को वहीं झाड़ियों में फेंक दिया।

पत्नी से विवाद के बाद की थी गाली गलौच

मृतक युवक के पिता की तहरीर पर बाराबंकी के हैदरगढ़ कोतवाली पुलिस ने मामला दर्ज किया और मामले में गहन छानबीन शुरू की। पुलिस ने घटना का खुलासा करते हुए आरोपी जीजा और उसके दोस्त को गिरफ्तार किया है। पुलिस पूछताछ में पकड़े गए आरोपी जीजा ने बताया है कि घर में पत्नी से कहासुनी व विवाद होने पर मेरे ससुर व साले घर पर आकर मुझसे गाली गलौज करते थे। जिससे मेरी गांव में काफी बेइज्जती होती थी।

इसी बात से क्षुब्ध होकर मैंने अपने साले धीरू को अपने दोस्त से काम के बहाने बुलवाया फिर मोटरसाइकिल पर बैठाकर थाना नगराम जिला लखनऊ क्षेत्र के टिकरा जंगल में ले जाकर दारू पिला कर गला दबाकर हत्या कर दी, व शव को वही छिपा दिया था। पुलिस अब दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर जेल भेजने की कार्रवाई कर रही है।

खबरें और भी हैं...