• Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Barabanki
  • Sonam Kinnar, Vice President Of Kinnar Welfare Board Reached Barabanki: Said All Classes Are Developing Together, Expressed Displeasure Over The Absence Of DM And SP

बाराबंकी पहुंचीं किन्नर कल्याण बोर्ड की उपाध्यक्ष सोनम किन्नर:कहा- सभी वर्गों का एक साथ विकास हो रहा है, डीएम और एसपी के न आने पर जताई नाराजगी

बाराबंकी7 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
उत्तर प्रदेश किन्नर कल्याण बोर्ड की उपाध्यक्ष सोनम किन्नर ने अधिकारियाें के साथ बैठक कर दिशा निर्देश दिए। - Dainik Bhaskar
उत्तर प्रदेश किन्नर कल्याण बोर्ड की उपाध्यक्ष सोनम किन्नर ने अधिकारियाें के साथ बैठक कर दिशा निर्देश दिए।

उत्तर प्रदेश किन्नर कल्याण बोर्ड की उपाध्यक्ष सोनम किन्नर आज बाराबंकी पहुंचीं। उन्होंने कौमी एकता की मिसाल देवा शरीफ दरगाह के दर्शन किए। बैठक में डीएम और एसपी के न पहुंचने पर कड़ी नाराजगी जताई।

पत्रकार वार्ता के दौरान केंद्र और राज्य सरकार की तारीफ की और कहा कि बिना किसी भेदभाव के सभी वर्गों का विकास एक साथ हो रहा है। प्रदेश सरकार ने किन्नर कल्याण बोर्ड का गठन किया है। जिससे किन्नरों को भी मौलिक अधिकार मिल सके।

पूरे प्रदेश का दौरान करना है

आज जिले के दौरे पर पहुंची किन्नर कल्याण बोर्ड के उपाध्यक्ष सोनम किन्नर कौमी एकता की मिसाल देवा शरीफ दरगाह पर पहुंची और दर्शन किए। कलेक्ट्रेट सभागार में बैठक के दौरान डीएम और एसपी के न शामिल होने पर कड़ी नाराजगी जताई। पत्रकार वार्ता के दौरान उन्होंने कहा कि योगी सरकार ने मुझे किन्नर कल्याण बोर्ड का उपाध्यक्ष बनाया है।

हमें पूरे प्रदेश में दौरा करना है सभी जनपदों में जाना है। डीएम और एसपी कार्यक्रम में क्यों नहीं आए यह तो वो बताएंगे। हम तो माननीय योगी आदित्यनाथ जी की बनाई नॉमिनेट किन्नर कल्याण बोर्ड के उपाध्यक्ष हूं। मैं चाहती हूं सभी अधिकारी इसको गंभीरता से लें और पूरी निष्ठा से मौलिक अधिकार देने का काम करें।

कोई अभद्रता करेगा तो कार्रवाई होगी

साथ ही पत्रकार वार्ता के दौरान उपाध्यक्ष सोनम किन्नर ने कहा कि कोई भी किन्नर मिसबिहेव करते हैं। अभद्रता करते हैं तो वह किन्नर है ही नहीं। किन्नर कभी भी बदतमीजी करते ही नहीं। क्योंकि किन्नरों को आपके घर एक दो बार नहीं कई बार जाना होता है। उन्हें यह पता होता है कि यह मेरी मां है या बहन है इसीलिए वह बदतमीजी नहीं करेंगे। यदि कोई ऐसा करता है तो उसकी आप लिखित शिकायत अधिकारियों से कीजिए। अधिकारी उस पर कार्रवाई करेंगे।