रिटायर्ड कर्नल की अनोखी पहल:बेटी के साथ शुरू की लखनऊ से अयोध्या की पदयात्रा, अग्निपथ पर बोले- गुमराह न हो देश के युवा

बाराबंकी2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

अयोध्या में बन रहे श्री राम मंदिर की तरफ लोग अभी से आकर्षित हो रहे है। देश-दुनिया से लोग अयोध्या पहुंच रहे हैं। इसी बीच भारतीय सेना के रिटायर्ड कर्नल ने लखनऊ से अयोध्या से पदयात्रा शुरू की है। उनके साथ उनकी बेटी भी है।

अपनी बेटी लखनऊ से अयोध्या के लिए रवाना हुए कर्नल।
अपनी बेटी लखनऊ से अयोध्या के लिए रवाना हुए कर्नल।

कर्नल ने अग्निपथ स्कीम का किया समर्थन
यूपी के बलिया के रहने वाले भारतीय सेना में लेफ्टिनेंट कर्नल रह चुके गोरख सिंह सेंगर ने बताया कि प्रदेश सरकार अयोध्या का सर्वांगीण विकास कर रही है। कर्नल ने बताया कि भारत सरकार ने लाई गई अग्निपथ योजना सिर्फ कुछ दिनों की सोची योजना नहीं, बल्कि इसपर 10 वर्षो से विचार चल रहा था। कर्नल की 15 वर्षीय पुत्री पलाशिका ने भी इस योजना का समर्थन किया और कहा कि इस योजना से युवाओं को लाभ होगा।

यह तस्वीर रि. कर्नल गोरख सिंह सेंगर की है, जिसमें वह अपनी पत्नी के साथ है।
यह तस्वीर रि. कर्नल गोरख सिंह सेंगर की है, जिसमें वह अपनी पत्नी के साथ है।

सेना नौकरी का जरिया नहीं हो सकती, यह राष्ट्रभावना
कर्नल ने बताया कि सेना नौकरी का जरिया नहीं हो सकती, यह राष्ट्रभावना है। उन्होंने कहा भारतीय सेना को मजबूत करने के लिए युवाओं की आवश्यकता है। वह गुमराह न हो बल्कि इस सेवा से मिलने वालों लाभ पर विचार करते हुए भारतीय सेना को मजबूती देने का विचार करे।

बेटी पिता को मानती है अपना आदर्श
कर्नल की बेटी देहरादून के एक स्कूल में शिक्षा ग्रहण कर रही है। वह अपने सैनिक पिता को आदर्श मानती हैं। सेना के प्रति सम्मान रखती हैं। पलाशिका ने बताया कि उसके पिता की इस यात्रा में वह खुद से तैयार हुई और सैनिक पिता के कदम से कदम मिलाकर वह इस यात्रा को पूरी करना चाहती है। अग्निपथ योजना का समर्थन करने हुए पलाशिका कहती है एक युवा के तौर पर वह इसका समर्थन करती है।

खबरें और भी हैं...