12वीं के सेकेंड टॉपर योगेश की Success Story:7 घंटे करते थे पढ़ाई, आईएस बनना सपना; अग्निपथ पर बोले- पहले की तरह हो सेना में भर्ती

बाराबंकी3 महीने पहले
  • पिता की माली हालत ठीक नहीं, चाचा उठाते हैं पढ़ाई का खर्चा

बाराबंकी योगेश प्रताप सिंह ने यूपी बोर्ड की इंटरमीडिएट की परीक्षा में स्टेट में सेकेंड स्थान हासिल किया। योगेश ने इंटर की परीक्षा में 95 फीसदी अंक हासिल हुए। योगेश बाराबंकी के श्री साईं इंटर कॉलेज के छात्र हैं। इसी स्कूल के अभिमन्यु वर्मा ने चौधी रैंक हासिल की है।

दैनिक भास्कर से बातचीत में योगेश ने बताया कि एग्जाम बहुत अच्छा हुआ था। मैं हर दिन 7 घंटे पढ़ता था। मेरी फिजिक्स, केमिस्ट्री और मैथ वीक थी। इसलिए तीनों सब्जेक्ट को डेढ़-ड़ेढ घंटे पढ़ता था। इसके अलावा अंग्रेजी और हिंदी को ढाई घंटे पढ़ता था। कैमिस्ट्री मेरी बहुत ही वीक थी। हमने इसके लिए टीचर का हेल्प लिया, ऑनलाइन क्लास की। योगेश ने बताया कि पिता की आर्थिक स्थिति ठीक न होने से कभी भी कोचिंग नहीं। किताब से खुद के नोट्स तैयार किए। योगेश ने कहा कि हमने पढ़ाई का बोझ की तरह नहीं लिया। हमेशा पढ़ाई को एंज्वाय किया।

पेश है योगेश से बातचीत के अंश-

सेंकेंड स्थान हासिल करने के बाद योगेश ने दैनिक भास्कर से बात की। उन्होंने अपनी सफलता का मंत्र बताया।
सेंकेंड स्थान हासिल करने के बाद योगेश ने दैनिक भास्कर से बात की। उन्होंने अपनी सफलता का मंत्र बताया।

आईएएस बनना चाहते हैं योगेश
बारीमबाग के टिकैत नगर के रहने वाले योगेश ने बताया कि उनका सपना आईएएस बनकर देश सेवा करने का है। यह सपना वह बचपन से देख रहे हैं। इसके लिए वह अभी से तैयारी कर रहे हैं। योगेश ने बताया कि उन्हें मैथ और सांइस पढ़ने में मजा आता है। इसलिए वह दिल्ली विश्वविद्यालय से बीएससी करना चाहता है। योगेश के पिता गांव में खेती किसानी करते हैं। मां गृहिणी हैं। उन्होंने बताया कि पिता की माली हालत ठीक नहीं है। पढ़ाई में मेरी रूचि को देखते हुए चाचा बाराबंकी लेकर आए। वही पढ़ाई लिखाई का खर्च उठा रहे हैं। उन्होंने बताया कि उनके माता-पिता ने उनका हर कदम पर साथ दिया। वे 10 भाई बहन है।

विराट कोहली है पंसदीदा क्रिकेटर, अच्छी लगती है मोदी की नीतियां
योगेश ने बताया कि उन्हें क्रिकेट में रुचि है। वह क्रिकेट को जरूर देखते हैं। उनके पसंदीदा क्रिकेटर विराट कोहली है। उन्होंने बताया कि उन्हें पीएम मोदी की नीतियां अच्छी लगती हैं, हालांकि कुछ खामियां भी हैं। अग्निपथ योजना पर योगेश ने कहा कि सरकार को अपना फैसला वापस लेना चाहिए और पहले की तरह भर्तियां होनी चाहिए। योगेश की सफलता के बाद बधाई देने वालों का तांता लगा हुआ है। बता दें कि फतेहपुर जनपद की दिव्यांशी ने 95.40 प्रतिशत के साथ यूपी टॉप किया है

खबरें और भी हैं...