• Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Barabanki
  • Varanasi Police Arrested Absconding CO From Barabanki: BSP MP Atul Rai Is Locked In The Rape Case, The CO Gave Clean Chit During The Investigation, The Government Suspended On November 30

वाराणसी पुलिस ने फरार सीओ को बाराबंकी से किया गिरफ्तार:रेप केस में बंद हैं बसपा सांसद अतुल राय, सीओ ने जांच के दौरान दी थी क्लीन चिट, शासन ने 30 नवंबर को किया था निलंबित

बाराबंकी2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
अमरेश सिंह बघेल को वाराणसी क्राइम ब्रांच ने गिरफ्तार किया है। - Dainik Bhaskar
अमरेश सिंह बघेल को वाराणसी क्राइम ब्रांच ने गिरफ्तार किया है।

रेप के आरोपी सांसद अतुल राय को क्लीन चिट देने वाले आरोपी निलंबित सीओ अमरेश सिंह बघेल को बुधवार रात वाराणसी पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। सीओ को वाराणसी से लखनऊ जाते समय बाराबंकी के टोल से गिरफ्तार किया गया है। गिरफ्तारी के बाद सीओ वाराणसी पुलिस अपने साथ ले गई है। बाराबंकी पुलिस के मुताबिक वाराणसी पुलिस ने इसकी सूचना दी थी। अमरेश सिंह बघेल को वाराणसी क्राइम ब्रांच ने गिरफ्तार किया है।

क्या है मामला?

बसपा सांसद अतुल राय के खिलाफ 1 मई 2019 को युवती ने वाराणसी के लंका थाने में रेप का मुकदमा दर्ज कराया था। मामले में अतुल राय प्रयागराज की नैनी सेंट्रल जेल में बंद है। 16 अगस्त को रेप पीड़िता ने केस के चश्मदीद के साथ सुप्रीम कोर्ट के सामनेआग लगा ली थी। दोनों को गंभीर हालत में दिल्ली के राम मनोहर लोहिया अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां इलाज के दौरान उनकी मौत हो गई। मामले में हाईकोर्ट ने यूपी सरकार को जांच कराकर कार्रवाई के निर्देश दिए थे।

मामला तूल पकड़ने पर तत्कालीन भेलूपुर सीओ अमरेश सिंह बघेल ने दोबारा मामले की जांच संस्तुति की। जांच के बाद उन्होंने बसपा सांसद को क्लीनचिट दे दी। यूपी सरकार ने डीजी और एडीजी को जांच सौंपी। जांच में सीओ अमरेश सिंह बघेल बघेल की भूमिका संदिग्ध पाई गई। 30 नवंबर 2020 को शासन ने उसे निलंबित कर दिया।

पहले भी विवादों में रहा है सीओ

सीओ अमरेश सिंह बघेल का विवादों से पुराना नाता रहा है। अमरेश सिंह बघेल बाराबंकी जिले के जैदपुर थाने में एक साल से ज्यादा समय तक प्रभारी निरीक्षक के रूप में तैनात रह चुके हैं। साथ ही लंबे समय तक बाराबंकी क्राइम ब्रांच प्रभारी भी रह चुके हैं। अमरेश सिंह बघेल के प्रभारी निरीक्षक रहने के दौरान रामनगर विधानसभा सीट से भाजपा विधायक शरद कुमार अवस्थी ने जैदपुर थाने में मची लूट और भ्रष्टाचार का खुलासा किया था।

शरद अवस्थी ने डीजीपी को पत्र लिखकर शिकायत भी की थी। प्रभारी निरक्षक अमरेश सिंह बघेल पर 5 करोड़ का बंगला बनवाने का भी आरोप लगाया गया था। इस मामले के तूल पकड़ने के बाद बघेल समेत एक अन्य प्रभारी निरीक्षक और तीन कांस्टेबलों को लाइन हाजिर कर दिया था।

खबरें और भी हैं...