बाराबंकी में मदरसे में योग:मदरसा बोर्ड के आदेश के बाद मदरसों में हुआ योग का आयोजन, छात्रों ने भी लिया हिस्सा

बाराबंकी2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

8वें अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के मौके पर मंगलवार को यूपी के सभी 75 जिलों में करोड़ों लोगों ने योग कार्यक्रम में हिस्सा लेकर विश्व को संदेश दिया। मदरसों में भी बड़ी संख्या में मुस्लिम छात्र-छात्राओं ने एक साथ योग किया। दरअसल अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस मनाने और छात्रों के बीच योग के बारे में जागरूकता बढ़ाने के लिए उत्तर प्रदेश मदरसा बोर्ड ने एक आदेश जारी किया था। जिसमें कहा गया था कि सभी सहायता प्राप्त, गैर-सहायता प्राप्त और सरकारी मान्यता प्राप्त मदरसों में योग दिवस भव्य तरीके से मनाया जाना चाहिए।

छात्रों को योग गुरू ने करवाया योग।
छात्रों को योग गुरू ने करवाया योग।

रोज बच्चे करते हैं योगा

इसी क्रम में प्रदेश की राजधानी लखनऊ से सटे बाराबंकी के सभी मदरसों में मंगलवार को छात्र-छात्राओं ने योग किया। यहां के एक मदरसा अरबिया हनफी-उन-उलूम में भी योगा का खास आयोजन किया गया। जिसमें मदरसे के सभी मुस्लिम छात्र-छात्राओं ने हिस्सा लिया। मदरसे के शिक्षकों ने इस मौके पर कहा कि यह सरकार की बहुत अच्छी पहल है। इससे बच्चों के शरीर के साथ-साथ दिमाग का भी अच्छा विकास होता है। उन्होंने बताया कि वह मदरसे में रोजाना बच्चों को योग कराते हैं। बच्चे भी बढ़-चढ़कर योगाभ्यास करते हैं।

मुस्लिम छात्राएं सुबह ही मदरसे पहुंच गईं। उन्होंने ग्राउंड में बैठकर योग किया।
मुस्लिम छात्राएं सुबह ही मदरसे पहुंच गईं। उन्होंने ग्राउंड में बैठकर योग किया।
मुस्लिम युवाओं ने भी मदरसे में पहुंचकर योग किया।
मुस्लिम युवाओं ने भी मदरसे में पहुंचकर योग किया।