फरीदपुर....सऊदी अरब में नौकरी का झांसा देकर ठगी:भूखा-प्यासा में भटकता रहा पराये देश, वापस आकर पीड़ित ने पुलिस से की कार्रवाई की मांग

फरीदपुर5 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

सऊदी अरब में ड्राइवर की नौकरी लगवाने का झांसा देकर मौसेरे भाई ने ही युवक को ठग लिया। रुपये लेकर दूसरे देश भेज दिया। वहां रुपये खर्च होने के बाद युवक खाने का भी मोहताज हो गया। बामुश्किल मदद मांगकर वह भारत पहुंचा। अब वह आरोपी पर कार्रवाई की मांग को लेकर स्थानीय पुलिस से लेकर उच्चाधिकारियों के चक्कर काट रहा है।

मौसेरे भाई ने ही की युवक से ठगी

भुता निवासी खालिद अली ने बताया कि कुंवरपुर बंजरिया हाफिजगंज निवासी मैसर अली पुत्र अकबर अली उसका मौसेरा भाई है। बेरोजगारी के चलते खालिद ने उससे सलाह मांगी तो उसने सऊदी अरब में ड्राइवर की नौकरी लगवाने का झांसा दिया। वहां जाने के लिए उसने 60 हजार रुपये का खर्च बताया और 1,400 रियाल पर नौकरी पर लगवाने की बात कही।

युवक से ठगे 69 हजार रुपये

विश्वास कर उसने 60 हजार रुपये उसके खाते में ट्रांसफर कर दिए। मेडिकल के नाम पर 9,000 रुपये और मांग लिए। इसके बाद फरवरी में उसे सऊदी अरब भेज दिया लेकिन वहां जाकर पता चला कि ड्राइवर की किसी नौकरी के बारे में उसने बात नहीं कर रखी थी।

भारतीय विदेश मंत्रालय ने की मदद

बामुश्किल गुजारा करने के लिए शेख के यहां वह नौकरी करने लगा। इस बीच शेख ने भी उसे वेतन नहीं दिया। उल्टा उसे भूखा-प्यासा रखा। इस पर उसने भारतीय विदेश मंत्रालय के ट्विटर एकाउंट पर मदद मांगी। तो वह बामुश्किल पिछले महीने घर पहुंचा।

पुलिस व आला अधिकारियों के ऑफिस के चक्कर काट रहा पीड़ित

इसके बाद वह मौसेरे भाई से मिला लेकिन रुपये वापस करने से इंकार कर काफी धमकाया तब से वह आरोपी पर कानूनी कार्रवाई के लिए पुलिस के अधिकारियों के चक्कर काट रहा है लेकिन उसकी सुनवाई नहीं हो रही है। एसएसपी बरेली रोहित सिंह सजवाण ने बताया कि मामले की जांच स्थानीय पुलिस को करने के निर्देश दिए गए हैं। जांच में जो भी तथ्य सामने आएगा, उसी आधार पर कार्रवाई की जाएगी।

खबरें और भी हैं...