मीरगंज में ईको कार लूटकांड मामला:दो लुटेरों को गिरफ्तार कर पुलिस ने भेजा जेल, तमंचा व चार जिन्दा कारतूस बरामद

मीरगंज14 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

मीरगंज पुलिस ने एक और बड़ी सफलता हासिल करते हुए हाइवे से विगत दिनों चालक के साथ मारपीट कर लूटी गई ईको कार के दो वांछित अपराधियों के साथ एक इण्डिका विस्टा कार बरामद की है, जिनके पास से दो अदद तमंचा व चार जिन्दा कारतूस के अलावा 8090 रूपये भी बरामद किये। पुलिस ने पकड़े में आये दोनों आरोपियों को शनिवार को जेल भेज दिया। लूटकांड में शािमल एक आरोपी अभी फरार है।

बता दें कि विगत एक मई की देर रात्रि के दौरान रामपुर से हुरहुरी गांव जाने हेतु 1200 रूपये में बुक कर लायी गयी ईको कार को हाइवे के भाखड़ा पुलिस के समीप लुटेरों ने चालक योगेंद्र को बेरहमी से पीटकर घायल करने के उपरांत सड़क किनारे फेंक कर ईको कार को लूट लिया था।

इस मामले में पुलिस ने दो दिनों बाद मामले की छानबीन करते हुए बहेड़ी में एक कबाड़े की दुकान पर कटते हुए ईको कार समेत एक आरोपी अशफाक अहमद को गिरफतार करते हुए जेल भेज दिया था और अन्य आरोपियों की तलाश शुरू कर दी थी।

मीरगंज थाना के उपनिरीक्षक देवराज सिंह पुलिस बल के साथ हाइवे के नल नगरिया अडडे के समीप से ईको लूटकांड के दो बांछित अपराधियों को को एक बगैर नंबर की इण्डिका कार समेत हिरासत में ले लिया और जामा तलाशी लेने पर दोनों आरोपियों के पास से दो अदद तमंचा एवं चार जिंदा कारतूस और 8090 रूपये लूटकर बेंची गयी ईको कार के बाबत बरामद किये।

दोनो वांछितों ने अपने नाम पता पंकज यादव पुत्र चरन सिंह निवासी मो0 कैलाबाग थाना किला बरेली एवं रविन्द्र यादव पुत्र महेश पाल सिंह निवासी ग्राम भीम लौर रसूलपुर थाना आंबला जिला बरेली बताया।

एसएचओ मीरगंज दयाशंकर ने बताया कि एक मई को देर रात्रि के दौरान हाइवे पर से चालक को गंभीर घायल कर लूटी गई। कार के दो और वांछित अपराधियों पंकज यादव व रविन्द्र यादव को शाम के समय हिरासत में लिया गया था, जिनके पास से इंडिका विस्टा बगैर नंबर कार व दो तमंचा और चार कारतूस जिन्दा और 8090 रूपये बरामद किये गये। दोनों ही आरोपियों को जेल भेज दिया गया।

खबरें और भी हैं...