पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

प्रदूषण रोकने पर प्लान:देश के 110 नगर ऐसे जहां प्रदूषण सामान्य से ज्यादा, इसमें बरेली भी शामिल, सीपीसीबी लखनऊ के डायरेक्टर ने लगाई फटकार

बरेली2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
डीएफओ कार्यालय में अधिकारियों के साथ बैठक करते सीपीसीबी, लखनऊ के डायरेक्टर। - Dainik Bhaskar
डीएफओ कार्यालय में अधिकारियों के साथ बैठक करते सीपीसीबी, लखनऊ के डायरेक्टर।

भारत सरकार के केंद्र प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड (सीपीसीबी) लखनऊ परिक्षेत्र के डायरेक्टर डॉ. देवेंद्र कुमार सोनी ने मंगलवार को नगर निगम, वन विभाग, परिवहन विभाग समेत अन्य तमाम विभाग के अधिकारियों के साथ बैठक की। जिसमें उन्होंने प्रदूषण को कम करने के निर्देश दिए। कहा कि देश में करीब 110 नगर ऐसे है जहां पर पॉल्यूशन सामन्य से ज्यादा है। इसमें बरेली भी शामिल है। इतना ही नहीं उन्होंने निर्माणाधीन कार्यों का भी निरीक्षण किया। कार्यों को देखकर उन्होंने नाराजगी जताई। उन्होंने कहा कि निर्माण एजेंसियों को धूल नियंत्रण मशीन लगाने के निर्देश दिए जाएं। ऐसा न करने पर जुर्माना लगाया जाए।

पौधों का निरीक्षण करते सीपीसीबी, लखनऊ के डायरेक्टर। साथ में वन विभाग, नगर निगम और परिवहन विभाग के अधिकारी।
पौधों का निरीक्षण करते सीपीसीबी, लखनऊ के डायरेक्टर। साथ में वन विभाग, नगर निगम और परिवहन विभाग के अधिकारी।

डीएफओ कार्यालय में हुई बैठक, बना एक्शन प्लान

निरीक्षण से पहले और बाद में सीपीसीबी के डायरेक्टर डॉ. देवेंद्र ने डीएफओ कार्यालय में अधिकारियों के साथ बैठक की। प्रदूषित शहरों के लिए एक्शन प्लान बनाया। उन्होंने स्थानीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के माध्यम से नगर निगम, सिंचाई विभाग, परिवहन विभाग, वन विभाग, पेयजल निगम, निर्माण विभागों को प्रदूषण पर नियंत्रण करने के लिए कार्ययोजना तैयार करने के निर्देश दिए हैं। डॉ. देवेंद्र ने आरटीओ के जुड़े अधिकारियों से धुआं फेंकने वाले वाहनों, बिना ढके रेत ले जाने वाले वाहनों और बिना प्रदूषण प्रमाणपत्र वाले वाहनों पर कार्रवाई करने को कहा है।

सॉलिड वेस्ट मैनेजमेंट प्लांट का किया निरीक्षण

इसके बाद डॉ. देवेंद्र ने नगर निगम के सॉलि़ड वेस्ट मैनेजमेंट प्लांट, बायो मेडिकल वेस्ट, वन विभाग का पौधारोपण, परिवहन विभाग के प्रदूषण जांच केंद्र समेत कई जगहों का निरीक्षण भी किया। जगह जगह जाकर पौधारोपण कार्य भी किया। इस मौके पर क्षेत्रीय पॉल्युशन कंट्रोल बोर्ड, नगर निगम, प्रशासनिक अधिकारी, आरटीओ कार्यालय के अधिकारी आदि शामिल रहे।

प्रदूषण वाले 16 शहरों में बरेली भी

प्रदेश के 16 जिले ऐसे है जो प्रदूषण की सूची में सबसे ऊपर माने जाते है। इन जिलों में बरेली के साथ आगरा, गाजियाबाद, कानपुर, लखनऊ, अमरोहा आदि शामिल है। पर्यावरण मंत्रालय ने निर्देश दिए थे, प्रदूषित जिलों की वायु गुणवत्ता सुधार के लिए एक समिति बनाकर कार्य किया जाए तो प्रदूषण से निजात पाई जा सकती है। जिसके चलते केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड भारत सरकार की टीम भी हर जिले में सर्वे कार्य पूरा कर रही है।

खबरें और भी हैं...