पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • 3 Stories Of UP Police's Imprisonment : Not Wearing A Mask In Bareilly Hit A Nail In The Hands And Feet Of The Young Man; In Rae Bareli, 5 Youths Were Locked Up In The Post And Beaten Overnight, In Mau, They Were Beaten Up Outside The House And Taken To The Police Station.

UP पुलिस की बर्बरता की 3 कहानी:मास्क नहीं पहनने पर बरेली के युवक के हाथ-पैर में कील ठोकीं, मऊ में पीटते हुए थाने ले गए; रायबरेली में 5 युवकों को रातभर पीटा

बरेली/रायबरेली/मऊ2 महीने पहले

कोरोना काल में उत्तर प्रदेश पुलिस का डरावना चेहरा देखने को मिला है। तीन जिलों में पुलिस ने बर्बरता की सारी हदें पार कर दी हैं। पहला मामला बरेली का है। यहां थाना बारादरी के जोगी नवादा में मास्क न पहनने पर एक युवक के हाथ और पैरों में कीलें ठोकने का आरोप पुलिस पर लगा है। वहीं, रायबरेली में 5 युवकों को रातभर चौकी में पीटने और मऊ में युवक को पीटते हुए थाने ले जाने का आरोप भी पुलिस पर लगा है।

बरेली: रात 10 बजे घर के सामने से ले गई पुलिस, SSP ने कहा- खुद से कीलें ठोक ली

फोटो बरेली की है। युवक थाने में अपनी मां के साथ पहुंचा। आरोप लगाया कि पुलिस ने ही उसके हाथ और पैर में कीलें ठोक दी हैं।
फोटो बरेली की है। युवक थाने में अपनी मां के साथ पहुंचा। आरोप लगाया कि पुलिस ने ही उसके हाथ और पैर में कीलें ठोक दी हैं।

बरेली के बारादरी थाना क्षेत्र में रहने वाले रंजीत के हाथ और पैर में कील ठुंकी हुई मिली। बुधवार को वह थाने पहुंचा। परिजनों का कहना है कि वह रात में करीब 10 बजे घर के बाहर बैठा था। पुलिस गश्त पर आई और रंजीत पर बिफर गई। पुलिस उसे थाने ले गई और उसके हाथ-पैर में कीलें ठोक दीं। रंजीत को बुरी तरह पीटा भी गया।

रंजीत की मां शीला देवी ने थाने में शिकायत की है। हालांकि SSP रोहित सजवाण ने आरोपों को खारिज कर दिया। उन्होंने कहा कि युवक ने 24 मई को पुलिस के साथ अभद्रता की थी। बिना मास्क लगाए बाहर घूम रहा था। उसके खिलाफ FIR दर्ज हुई थी। गिरफ्तारी से बचने के लिए वह साजिश रच रहा है। उसने खुद से ही कील ठोंक ली है।

मऊ : घसीटते हुए साथ ले गए पुलिसकर्मी, वीडियो वायरल

मऊ में युवक को घर के बाहर से पुलिस घसीटकर ले जाते हुए।
मऊ में युवक को घर के बाहर से पुलिस घसीटकर ले जाते हुए।

दूसरा केस UP के मऊ जिले का है। यहां थाना मोहम्मदाबाद में एक युवक से पुलिसकर्मियों की मारपीट का मामला सामने आया है। आरोप है कि युवक अपने घर के बाहर खड़ा था और उसी समय वहां पहुंचे दो पुलिसकर्मी उसे घसीटते हुए अपने साथ ले गए और उसके साथ मारपीट की। इसका वीडियो भी सामने आया है। पुलिस ने फिलहाल इसकी जांच करने की बात कही है।

रायबरेली : 5 युवकों को चौकी में बंद कर रातभर पीटने का आरोप

रायबरेली में चोट के निशान दिखाते युवक। आरोप है कि SI मृत्युंजय कुमार ने चौकी में रातभर बंद करके युवकों की पिटाई की है। दरोगा की फोटो इनसेट में है।
रायबरेली में चोट के निशान दिखाते युवक। आरोप है कि SI मृत्युंजय कुमार ने चौकी में रातभर बंद करके युवकों की पिटाई की है। दरोगा की फोटो इनसेट में है।

तीसरा मामला रायबरेली का है। यहां आरोप है कि पुलिस ने तिलक चढ़ाकर लौट रहे 5 युवकों को रातभर सूची चौकी में बंद करके बेरहमी से पीटा। रायबरेली के सिरसिरा गांव के रहने वाले लवकुश, शिवाकांत, राहुल, विनय कुमार और विपिन तिवारी ने SI मृत्युंजय कुमार पर पीटने का आरोप लगाया है।

युवकों का कहना है कि दोस्त की बहन का तिलक चढ़ाकर वह सभी लौट रहे थे। तभी सादे कपड़ों में बगहा चंगल के पास खड़े चौकी इंचार्ज मृत्युंजय कुमार ने उन्हें कार रोकने का इशारा किया। जब वे नहीं रुके तो आगे जाकर उन्हें 112 पुलिस की मदद से घेरकर पकड़ लिया गया। इसके बाद सभी की रातभर पिटाई की गई। पुलिस का कहना है कि ये सभी शराब के नशे में पुलिस के साथ अभद्रता कर रहे थे। पुलिस को गाली देकर भाग रहे थे। इन सभी के खिलाफ धारा-151 के तहत कार्रवाई की जा रही है।

खबरें और भी हैं...