सिपाही ने की दूसरी शादी, पहली पत्नी ने काटा हंगामा:विवाद के बाद पत्नी को मायके भेजा फिर 9 मई को चोरी से की दूसरी शादी

एक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
विवाद के बाद पत्नी को मायके भेजा फिर 9 मई को चोरी से की दूसरी शादी। एसएसपी ऑफिस में शिकायत करने पहुंची पीड़ित। - Dainik Bhaskar
विवाद के बाद पत्नी को मायके भेजा फिर 9 मई को चोरी से की दूसरी शादी। एसएसपी ऑफिस में शिकायत करने पहुंची पीड़ित।

यूपी पुलिस के एक सिपाही ने शादी के तीन साल बाद पहली पत्नी को बिना तलाक दिए चोरी छिपे 9 मई को दूसरी शादी कर ली। पहली पत्नी को शादी का पता चला तो शादी में पहुंचकर हंगामा किया लेकिन उस दौरान पति समेत अन्य ससुरलायों ने उसे पिटाई कर भगा दिया।

मंगलवार को बरेली निवासी पीड़िता एसएसपी ऑफिस पहुंची और सिपाही पति के खिलाफ प्रार्थनापत्र देकर कार्रवाई की मांग की तो एसएसपी ने जांच कर कार्रवाई के आदेश जारी कर दिए।

कोर्ट में चल रही है सुनवाई

बारादरी क्षेत्र निवासी पीड़िता ने बताया कि 14 मार्च 2019 को उसकी शादी लखीमपुर जिले के चंदौसी आशोक नगर निवासी यूपी पुलिस की सिपाही से हुई थी। आरोप है कि शादी के बाद वह मायके गई तो पति ने चोरी से एक पारिवारिक वाद लखीमपुर पारिवारिक न्यायालय में दर्ज करा दिया। जानकारी पर उसने एक पक्षीय वाद को कैंसिल करा दिया। जिसके बाद वह मामला कोर्ट मे विचाराधीन है।

आरोप है कि इसी दौरान सिपाही के परिजनों ने उसकी शादी चोरी छिपे बरेली के सुभाषनगर थाना क्षेत्र की युवती से तय हो गई। 9 मई को उसकी सुभाषनगर में बारात आई थी। जानकारी होने पर वह मौके पर पहुंची तो पति समेत ससुरालियों शादी समारोह में लात-घूसों व चप्पल से पीटा, यहां तक उसके कपड़े तक फाड़ दिए और उसके साथ अश्लीलता भी कर डाली। इतना ही नहीं उसे जान से मारने की नियत से देवर ने तमंचा निकाल कर फायर किया तो वह किसी तरह जान बचाकर बाहर आई।

जिसके बाद उसने 112 को कॉल कर शिकायत की तो पुलिस पहुंची लेकिन सुनवाई नहीं हुई। जिसके बाद वह सुभाषनगर थाने गई लेकिन मामला सिपाही का होने के कारण वहां भी पुलिस ने शादी रोकने का कोई प्रयास नहीं किया। जिसके बाद आज पीड़िता एसएसपी ऑफिस पहुंची तो एसएसपी ने शिकायत के बाद सुभाषनगर पुलिस को जांच कर कार्रवाई के आदेश जारी कर दिए।