• Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Bareilly
  • Bareilly News Hundreds Of Youth Applied After Seeing False Advertisements In Newspapers, Promised Salary Of Rs 45,000; Revealed When Reached To Get The Appointment Letter In Health Department

बरेली...स्वास्थ्य विभाग में नौकरी देने के नाम पर ठगी:अखबारों में विज्ञापन देख सैकड़ों युवाओं ने किया आवेदन, 45 हजार रुपए सैलरी का किया गया वादा; नियुक्ति पत्र लेने पहुंचे तो हुआ खुलासा

बरेली20 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
प्रतीकात्मक फोटो - Dainik Bhaskar
प्रतीकात्मक फोटो

बरेली में नेशनल हेल्थ मिशन (एनएचएम) में नौकरी दिलाने के नाम पर दर्जनों बेरोजगार युवाओं से ठगी का मामला सामने आया है। इस फर्जीवाड़े का पता बुधवार को तब लगा, जब कुछ आवेदक अपना नियुक्ति पत्र लेने स्वास्थ्य विभाग के दफ्तर पहुंचे।

विज्ञापन के जरिये दिया झांसा, किसी को नहीं लगी भनक

ठगों ने भर्ती का विज्ञापन समाचार पत्रों के साथ-साथ ऑनलाइन माध्यम से भी निकाला। लेकिन, स्वास्थ्य विभाग को इसकी भनक तक नहीं लगी। शातिरों ने इन विज्ञापनों में एनएचएम में विभिन्न पदों पर आवेदन करने के लिए दो फोन नंबर दिए थे। आवेदन करने वालों के मुताबिक इन फोन नंबरों पर कॉल करने पर एक वेबसाइट का लिंक दिया जाता था। इस वेबसाइट पर जाकर आवेदन फॉर्म भराना पड़ता था।

आवेदकों ने 250 रुपए फीस भी दे दी

इस ऑनलाइन फॉर्म की फीस 250 रुपए थी। कुछ युवाओं को आठ से दस दिन में नियुक्ति पत्र दे दिए गए। हालांकि, पेंच तब फंसा जब शातिरों ने सिक्योरिटी मनी के रूप में हजारों रुपये की मांग की। कुछ आवेदकों ने तो सिक्योरिटी मनी दे दी, लेकिन कुछ सिक्योरिटी मनी पता करने और नियुक्ति पत्र लेने सीधे स्वास्थ्य विभाग के दफ्तर पहुंच गए। जिसके बाद उन्हें विभाग से पता चला कि ऐसी कोई भर्ती ही नहीं निकाली गई है।

12 से 45 हजार तक रखा था वेतन

जालसाजों ने नौकरी के लिए 12 हजार से 45 हजार रुपए तक सैलरी ऑफर की गई थी। इसके साथ ही खाना, रहना, कैब यानी गाड़ी से आने-जाने की सुविधा देने का भी वादा किया गया था। शातिरों ने मुंबई के एक पते के साथ दो मोबाइल नंबर भी विज्ञापन में छापे थे।

वेबसाइट पर कई पदों के लिए आवेदन

जालसाज आवेदकों को उनके मोबाइल पर वेबसाइट का लिंक (nhm.in.net) भेजते थे। इस वेबसाइट पर NHM का सिक्योरिटी चिह्न भी दिखता है। इस वेबसाइट 13 अलग-अलग पदों के लिए आवेदन का विकल्प भी दिया गया है। एनएचएम के नाम पर बनी फर्जी वेबसाइट पर देश के स्वास्थ्य मंत्री और कुछ अन्य चर्चित लोगों के फोटो भी जालसाजों ने डाल रखे हैं।

इस फर्जीवाड़े को लेकर सीएमओ डॉक्टर बलवीर सिंह का कहना है कि इस तरह का विज्ञापन सरकार की तरफ से नहीं निकाला गया है। पूरी तरह से फर्जीवाड़ा हुआ है। स्वास्थ्य विभाग से इसका कोई सरोकार नहीं है।

खबरें और भी हैं...