बरेली...रामगंगा में दो किशोर डूबे, एक की मिली लाश:मदरसे में पढ़ने वाले 6 छात्र नहाने गए थे, दो छात्र पैर फिसलने से नदी में डूब गए, गोताखोरों ने एक शव निकाला, दूसरे की तलाश

बरेली10 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
पुलिस ने गोताखोरों की मदद से नदी में जाल बिछाया है। पुलिस को अंदेशा है कि हो सकता है कि रात में दूसरे किशोर का शव जाल में फंस जाए। - Dainik Bhaskar
पुलिस ने गोताखोरों की मदद से नदी में जाल बिछाया है। पुलिस को अंदेशा है कि हो सकता है कि रात में दूसरे किशोर का शव जाल में फंस जाए।

बरेली के भमोरा के एक मदरसे में पढ़ने वाले 6 छात्र गुरुवार को रामगंगा में स्नान करने गए थे। नहाने के दौरान अचानक दो छात्र नदी में डूब गए। शोर सुनकर आसपास के लोग पहुंचे और दोनों छात्रों की तलाश शुरू की लेकिन उनका पता नहीं चल सका। देर शाम गोताखोरों ने एक छात्र का शव बरामद कर लिया। जबकि दूसरे की तलाश जारी जारी है। फिलहाल घटना के चलते परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल है। वहीं घटना के चलते छात्रों में दहशत है।

पैर फिसलने से नदी में डूबे

भमोरा थाना क्षेत्र के सरदार नगर कस्बे के मदरसे में पढऩे वाले 6 छात्र गांव से दो किलोमीटर दूर बह रही रामगंगा नदी में नहाने गए थे। उनमें से नूरइस्लाम का पुत्र फैजुल (13) व अमीर अहमद उर्फ काले (14) नहाने के लिए रामगंगा में उतरे। नहाने के दौरान दोनों का पैर फिसला और दोनों डूबने लगे। उन्हें डूबते देख उनके साथियों ने शोर मचाया और गांव पहुंचे। जानकारी पर आसपास के साथ गांव के सैकड़ों लोग मौके पर और दोनों की तलाश शुरू कर दी।

कई घंटे के प्रयास के बाद भी दोनों का पता नहीं चला। जिसके बाद मामले की जानकारी प्रधान पति सरताज मंसूरी ने पुलिस को दी। जिसके बाद पुलिस गोताखोरों के साथ रामगंगा पहुंची। कई घंटे तलाश के बाद पुलिस ने देर शाम फैजुल का शव बरामद कर लिया।

जाल की मदद से दूसरे शव की तलाश

पुलिस ने गोताखोरों की मदद से नदी में जाल बिछाया है। पुलिस को अंदेशा है कि हो सकता है कि रात में दूसरे किशोर का शव जाल में फंस जाए। घटना के बाद से परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल है ।

वहीं एसएसपी रोहित सिंह सजवाण का कहना है कि रात अधिक होने के कारण अब शुक्रवार को दूसरे किशोर की तलाश की जाएगी। पुलिस की माने तो मृतक के पिता मजदूरी करते है।

खबरें और भी हैं...