डिग्गी में अफीम छुपाकर ले जा रहे दो तस्कर गिरफ्तार:उत्तराखंड सप्लाई करने जा रहे थे दोनों तस्कर, पुलिस ने चेकिंग के दौरान दबोचा

बरेली9 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
उत्तराखंड सप्लाई करने जा रहे थे दोनों तस्कर, पुलिस ने चेकिंग के दौरान दबोचा। - Dainik Bhaskar
उत्तराखंड सप्लाई करने जा रहे थे दोनों तस्कर, पुलिस ने चेकिंग के दौरान दबोचा।

स्कूटी की डिग्गी में अफीम छुपाकर उत्तराखंड सप्लाई करने जा रहे दो तस्करों को भोजीपुरा पुलिस ने बिलवा पुल के नीचे चेकिंग के दौरान धर दबोचा। पूछताछ में दोनों ने बताया कि वह झारखंड से अफीम खरीदकर लाते हैं और उत्तराखंड में सप्लाई करते हैं।

दोनों कई सालों से अफीम की तस्करी कर रहे थे। पुलिस पकड़े गए तस्करों के गैंग के अन्य सदस्यों के बारे में भी पता लगाने में जुटी है।

5 साल में 1 क्विंटल से ज्यादा अफीम की तस्करी

भोजीपुरा पुलिस दोपहर में बिलवा पुल के नीचे उत्तराखंड की ओर जाने वाले वाहनों की चेकिंग कर रही थी। उसी दौरान पुलिस की चेकिंग देखकर एक स्कूटी सवार दो लोग पुलिस को देखकर वापस लौटने लगे। उनकी स्कूटी पर वाहन नंबर भी था और स्कूटी चालक ने हेलमेट भी लगा रखा था। पुलिस को स्कूटी सवारों पर शक हुआ तो उन्हें रुकने का इशारा किया लेकिन दोनों स्कूटी लेकर भागने लगे।

जिसके बाद पुलिस ने उनका पीछा कर रोक लिया और उनसे भागने का कारण पूछा तो दोनों इधर-उधर की बातें करने लगे। जिसके बाद पुलिस का शक गहराया तो दाेनों की तलाशी ली लेकिन कुछ नहीं मिला। जिसके बाद पुलिस ने उनकी स्कूटी चेक करनी शुरू की और स्कूटी की डिग्गी खोलकर चेक की तो उसमें काले रंग का एक पैकेट मिला। पुलिस ने पैकेट खोला तो उसमें दो किलो अफीम मिली।

पुलिस दोनों को स्कूटी लेकर थाने गई तो पूछताछ में बताया कि वह झारखंड से अफीम 1 लाख में खरीदकर लाते हैं और उत्तराखंड में अफीम को फुटकर में करीब दो लाख रुपए किलो बेचते हैं। वह 5 साल से अफीम की सप्लाई कर रहे हैं। वह उत्तराखंड के अलावा, दिल्ली और पंजाब में भी अफीम की सप्लाई करते हैं। अबतक वह 1 क्विंटल से अधिक की अफीम की सप्लाई कर चुके हैँ।

पकड़े गए तस्करों ने अपना नाम राणा सिंह उर्फ राम सिंह पुत्र मंगली प्रसाद यादव निवासी पनवडिया प्रतीतपुर थाना क्योलडिया, अयोध्या प्रसाद पुत्र मथुरा प्रसाद निवासी ग्राम डोरा यूनिवर्सिटी रोड के छोटे गेट के पास थाना बारादरी बताया। पुलिस अब उनके गैंग के बारे में जानकारी जुटा रही है। इसी के साथ यह भी पता लगाया जा रहा है कि उत्तराखंड, दिल्ली और पंजाब में उनसे अफीम कौन खरीदता था। हालांकि पुलिस के हाथ कुछ संदिग्ध नंबर भी लगे हैं। जिनकी कॉल डिटेल भी पुलिस निकलवा रही है। फिलहाल दोनों तस्करों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर गिरफ्तार कर लिया है।