वाहनों की प्रदूषण जांच:रोड पर निकलने से पहले एयर प्रदूषण की जांच करा लें, वरना भरना होगा मोटा जुर्माना, संभागीय परिवहन विभाग सख्त

बरेली5 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

दो पहिया वाहनों के मोडिफाइड कराने पर जुर्माने के बाद अब संभगीय परिवहन विभाग एयर पॉल्यूशन पर भी सख्त हो चुका है। संभागीय परिवहन विभाग अब पॉल्यूशन कंट्रोल बोर्ड के साथ मिलकर संयुक्त रूप से एक अभियान चलाने वाला है। जिसमें एयर प्रदूषण करने वाले सभी वाहनों पर कार्रवाई की जाएगी। इसके लिए किसी भी वाहन को रोड पर रोककर उसके साइलेंसर में एक डिवाइस लगाई जाएगी, जिससे तत्काल वाहन का पॉल्यूशन पता चल जाएगा।

प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के अधिकारी लेकर आएंगे डिवाइस
सहायक संभागीय परिवहन अधिकारी मनोज कुमार के मुताबिक पॉल्यूशन कंट्रोल बोर्ड के कर्मचारी अपने साथ एक डिवाइस लेकर चलेंगे। रोड पर किसी भी वाहन को अचानक से रोककर उसके साइलेंसर में यह डिवाइस लगाई जाएगी, जिससे उसमें तुंरत ही वाहन का एयर पॉल्यूशन दिखाई देने लगेगा। यदि वाहन एयर पॉल्यूशन कर रहा है तो तत्काल उसका चालान काटा जाएगा।

अभी तक नॉइज पॉल्यूशन करने वालों के काटे गए थे चालान
संभागीय परिवहन विभाग ने पिछले दो दिनों में नॉइज पॉल्यूशन फैलाने वाले दो पहिया वाहनों के चालान धड़ल्ले से काटे थे। जिसमें उन्होंने करीब दो लाख रूपये की वसूली भी की थी। यह चालन उन वाहनों के काटे गए थे, जिन्होंने अपने वाहन को मोडिफाइड कराया था। इसमें अधिकांश बुलेट शामिल थी। दरअसल, लोग बुलेट के असली साइलेंसर को निकलवाकर उसमें पटाखा वाला साइलेंसर लगवाते है। जिससे बुलेट चलते समय पटाखे की आवाज करती है। जिससे काफी नॉइज पॉल्यूशन होता है।

अभी लगातार चलेगा यह अभियान
विभागीय अधिकारियों की माने तो अब वाहनों में पॉल्यूशन की जांच के लिए लगातार अभियान चलेगा। फिर चाहे वो एयर पॉल्यूशन या फिर नॉइज पॉल्यूशन, दोनों में चालान कटना निश्चित है। विभागीय अधिकारियों ने इसके लिए एक टीम गठित की है जो हर दिन रोड पर चालान करेगी।

खबरें और भी हैं...