बीएल एग्रो कंपनी के कूलिंग टॉवर में लगी आग:सीबीगंज स्थित तेल रिफायनरी में आग लगने के बाद मचा हड़कंप

एक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
सीबीगंज स्थित तेल रिफायनरी में आग लगने के बाद मचा हड़कंप। - Dainik Bhaskar
सीबीगंज स्थित तेल रिफायनरी में आग लगने के बाद मचा हड़कंप।

बरेली सीबीगंज के परसाखेड़ा रोड़ नंबर तीन स्थित तेल रिफायनरी कंपनी बीएल एग्रो के कूलिंग प्लांट में आज दोपहर आग लगने के बाद हड़कंप मच गया। आग की सूचना के बाद कंपनी में काम कर रहे मजदूरों में भगदड़ मच गई। जानकारी पर फैक्ट्री प्रबंधन मौके पर पहुंचा और पुलिस के साथ दमकल को सूचना दी। हालांकि उससे पहले ही प्रबंधन ने आग बुझाने का काम शुरू कर दिया।

आग की जानकारी पर दमकल विभाग मौके पर पहुंचा और कड़ी मशक्कत के बाद आग पर काबू कर लिया।
आग की जानकारी पर दमकल विभाग मौके पर पहुंचा और कड़ी मशक्कत के बाद आग पर काबू कर लिया।

फैक्ट्री में आग की सूचना पर पुलिस प्रशासन में भी हड़कंप मच गया। जानकारी पर दमकल विभाग मौके पर पहुंचा और कड़ी मशक्कत के बाद आग पर काबू कर लिया। आग से कितना नुकसान हुआ है कि इसका पता अभी नहीं चल पाया है। आग किन कारणों से लगी इसकी जांच दमकल विभाग कर रहा हैं। फिलहाल आग से किसी तरह की कोई जनहानि नहीं हुई है।

कूलिंग प्लाट के मजदूरों में मची भगदड़

सीबीगंज के रोड नंबर तीन पर तेल रिफायनरी बीएल एग्रो का कूलिंग प्लांट लगा हुआ है। फैक्ट्री में दोपहर मजदूर काम कर रहे थे। अचानक एक धमाके के साथ फैक्ट्री के कूलिंग प्लांट के टॉवर में आग लग गई। जब तक मजदूर व कर्मचारी कुछ समझ पाते आग ने विकराल रूप धारण किया तो फैक्ट्री के मजदूरों और कर्मचारियों में भगदड़ मच गई। इसी दौरान कर्मचारियों ने घटना की जानकारी फैक्ट्री प्रबंधन को दी तो प्रबंधन के लोगों ने सीबीगंज पुलिस और दमकल को सूचना दी।

फैक्ट्री प्रबंधन मौके पर पहुंचते ही फैक्ट्री में लगे अग्निशमन यंत्रों की मदद से आग बुझाने के प्रयास शुरू कर दिए। करीब 10 मिनट में फायर ब्रिगेड की गाड़ी मौके पर पहुंची और दमकल कर्मियों ने आग बुझाने का काम शुरू कर दिया। आग की लपटें इतनी विकराल थीं कि करीब 30 फिट की दूरी से ही दकमल कमी पानी डालकर आग बुझाने की कोशिश में जुट गए।

करीब 1 घंटे की कड़ी मशक्कत के बाद कूलिंग प्लांट में लगी आग पर दमकल कर्मियों ने काबू कर लिया। कर्मचारियों की माने तो अगर समय रहते आग पर काबू नहीं हो पाता तो मामला बड़ा हो सकता था। फिलहाल दमकल विभाग की टीम यह पता लगाने में जुटी है कि आखिर आग लगी कैसे। इसी के साथ प्रबंधन अब यह पता करने में जुटा है कि आग से कितने का नुकसान हुआ है।