बरेली में ननद-भाभी समेत 5 गिरफ्तार:भाभी की मदद के लिए B.A की छात्रा बनी ड्रग तस्कर, 5 किलो अफीम बरामद

बरेली3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
5 किलो के साथ झारखंड की ड्रग तसकर ननद-भाभी समेत 5 गिरफ्तार। भाभी की मदद के लिए बीए में पढ़ने वाली ननद बनी ड्रग तस्कर। पुलिस की हिरासत में सभी आरोपित। - Dainik Bhaskar
5 किलो के साथ झारखंड की ड्रग तसकर ननद-भाभी समेत 5 गिरफ्तार। भाभी की मदद के लिए बीए में पढ़ने वाली ननद बनी ड्रग तस्कर। पुलिस की हिरासत में सभी आरोपित।

बरेली STF ने ड्रग तस्करी करने वाली ननद-भाभी समेत 5 को गिरफ्तार किया है। तलाशी के दौरान पांचों के पास से 5 किलो अफीम बरामद हुई है। पकड़े गए ड्रग तस्करों में तीन महिलाएं हैं।

सभी झारखंड के रहने वाले और ड्रग तस्करी का काम करते हैं। पकड़े गए ड्रग तस्करों ने एक बीए की छात्रा भी शामिल है। जो भाभी की मदद के लिए ड्रग तस्कर बन गई। फिलहाल एसटीएफ ने पूछताछ के बाद सभी को कोतवाली पुलिस को सौंप दिया है।

पुलिस लाइन के बाहर होनी थी डिलिवरी

एसटीएफ को शनिवार को मुखबिर ने सूचना दी कि झारखंड के कुछ ड्रग तस्कर बरेली में अफीम की सप्लाई करने आ रहे हैं। तस्करों के इस गैंग में युवती और महिलाएं भी शामिल हैं। एसटीएफ के हाथ इन ड्रग तस्करों के मोबाइल नंबर भी लग गए। जिसके बाद एसटीएफ ने नंबर सर्विलांस पर लगाया और उनके आने का इंतजार करने लगी।

देर रात झारखंड के एक ड्रग तस्कर की लोकेशन बरेली पुलिस लाइन के बाहर एसटीएफ को मिली। एसटीएफ का ऑफिस भी पुलिस लाइन के अंदर था। इतने पास लोकेशन मिलते ही एसटीएफ की टीम पैदल ही वहां से चल दी। इस दौरान पुलिस ने देखा की दो महिलाएं और दो युवक संदिग्ध हालत में खड़े हैं। वह कुछ समझ पाते कि उसे पहले एसटीएफ ने उन्हें पकड़ लिया।

पकड़े गए सभी लोगों से एसटीएफ ने पूछताछ की तो पता चला कि एक महिला अभी और है जो रास्ते में है और पुलिस लाइन के बाहर ही आ रही है। एसटीएफ ने उस महिला का भी इंतजार किया और उसके पहुंचते ही उसे दबोच लिया। एसटीएफ ने ड्रग तस्करों के इस गैंग से 5 किलो अफीम बरामद की है।

भाभी के लिए ननद बन गई ड्रग तस्कर

पकड़े गए सभी ड्रग तस्करों ने अपना नाम योगेन्द्र डांगी पुत्र चन्द्रिका डांगी निवासी गांव गिधौर, अजय यादव पुत्र चन्द्रदेव यादव निवासी गांव, बाराबंकी पोस्ट टटरा थाना चतरा झारखण्ड, लक्ष्मी देवी पत्नी भरत राना, अंजली धान पुत्री स्वः किशोरी धान, निवासी ग्राम करीवासन पोस्ट व थाना कटकम सण्डी, राधा डांगी पत्नी फूल कुमार निवासी ग्राम रामगण थाना पतरातू हजारीबाग झारखंड बताया।

जिसमें से अंजली धान और लक्ष्मी देवी ननद-भाभी हैं। अंजली बीए की छात्रा है और अपनी भाभी लक्ष्मी देवी के लिए वह ड्रग तस्कर बन गई। एसटीएफ ने सभी को कोतवाली पुलिस के हवाले कर दिया। जहां उनसे पूछताछ की जा रही है और वह अफीम किसी सप्लाई करने आई थी। इसका पता लगाया जा रहा है। हालांकि पुलिस ने सभी के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है।