आंधी व बारिश के बीच बदला मौसम का मिजाज:बरेली में आज सुबह चली धूल भरी आंधी फिर बारिश के बीच मौसम हुआ खुशनुमा

बरेली4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
बरेली में आज सुबह चली धूल भरी आंधी फिर बारिश के बीच मौसम हुआ खुशनुमा। - Dainik Bhaskar
बरेली में आज सुबह चली धूल भरी आंधी फिर बारिश के बीच मौसम हुआ खुशनुमा।

बरेली में भीषण गर्मी से परेशान लोगों के लिए सोमवार सुबह अचानक मौसम बदलने के साथ सुहावना हा गया। तेज आंधी और बूंदाबांदी के चलते भीषण गर्मी से लोगों को राहत मिली। वहीं आंधी के चलते कई घरों की छत पर लगी टीन शेड उड़ गए तो कहीं पेड़ गिर पड़े।

आंधी के चलते सबसे अधिक नुकसान आम की फसल को होना बताया जा रहा है। तेज हवा के चलते 20 से 25 फीसदी आम के फल गिर गए हैं। हालांकि बूंदाबांदी के साथ कहीं-कहीं बारिश के चलते लोगों ने काफी राहत महसूस की।

9 बजे छाए काले बादल फिर आंधी के साथ बूंदाबांदी

बरेली में सुबह 9 बजे अचानक मौसम ने करवट बदली और काले बादल छाने लगे। कुछ मिनट बाद तेज हवा चलने लगी और देखते ही देखते हवा ने आंधी का रूप ले लिया। तेज हवा के कारण शहर से देहात तक कई जगह पेड़ गिर गए तो लोगों के छतों में रखा सामान भी उड़ गया। करीब 11 बजे से अचानक तेज हवा के साथ बूंदाबांदी भी शुरू हो गई। वहीं कई जगह गड़गड़ाहट के साथ आकाशीय बिजली भी चमकने के साथ ही तेज बारिश भी हुई।

अक्सर नालियों के पानी के चलते जहां जिला अस्पताल में पानी भरा रहता है वहीं आज हल्की बारिश में जिला अस्पताल में पानी भर गया।
अक्सर नालियों के पानी के चलते जहां जिला अस्पताल में पानी भरा रहता है वहीं आज हल्की बारिश में जिला अस्पताल में पानी भर गया।

आंधी और तेज बंदूाबांदी के कारण सबसे अधिक नुकसान आम की फसल को बताया जा रहा है। उद्यान विभाग के अफसरों ने बताया कि संभावना जताई जा रही है कि करीब 20 से 25 फीसदी आम के फल गिर गए हैं। हालांकि कृषि विभाग के अफसर इस बूंदाबांदी और बारिश को को किसानों के लिए फायदेमंद बता रहे हैं। उनकी माने तो जून में धान की खेती की शुरूआत हो जाती है। अभी से बारिश खेतों के लिए फायदेमंद साबित होगी और खेतों में नमी बढ़ जाएगी तो धान की फसल लगाने में भी सहायता होगी।

कहीं पानी भरा तो कहीं आंधी से तार गिरे

वहीं अक्सर नालियों के पानी के चलते जहां जिला अस्पताल में पानी भरा रहता है वहीं आज हल्की बारिश में जिला अस्पताल में पानी भर गया। जिसके चलते मरीजों और तीमारदारों को परेशानी का सामाना करना पड़ा। पानी भरने की शिकायत अफसरों से हुई तो उन्होंने सफाई कर्मियों को चोक नाली जल्द साफ कर पानी निकासी के निर्देश भी दिए।

वहीं तेज हवा के चले सुभाषनगर में बिजली का तार गिरने से कई घंटे बिजली आपूर्ति बाधित रहीं तो आंधी के चलते कई मुहल्लों की बिजली विभाग ने सुरक्षा के मद्दे नजर काट दी। फिलहाल सोमवार को सारा दिन मौसम खुशनुमा होने के साथ ही बारिश होने की संभावना जताई जा रही है। वहीं शाम तक कुछ मुहल्लों की बिजली फाल्ट के चलते नहीं आई तो कहीं-कहीं बिजली ट्रिप करती रही, जिससे लोगों को परेशानी हुई।

खबरें और भी हैं...