पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

स्मार्ट सिटी में सुविधाएं:घण्टा घर के पास नगर निगम बनाएगा शी-लाउंज और ई- क्योस, लोगों को नहीं होगा भटकना

2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

उत्तर प्रदेश के बरेली में अब स्मार्ट सिटी को लेकर काम तेज हो गया है। नगर निगम अब कुतुबखाने के घंटा घर को दोबारा शुरू करने के साथ ही वहां पर लोगों के लिए तमाम तरह की सुविधाएं भी दी जाएगी। इसके लिए योजनाएं तैयार की जा रही है। महिलाओं के लिए नगर निगम घंटाघर के नीचे एक शी-लांज तैयार करेगा। जिससे वहां आने वाली महिलाएं जरूरत पड़ने पर अपने बच्चों को स्तन पान कराने के साथ ही साथ अन्य आवश्यक काम भी कर सकती है। इसके लिए टेंडर निकालने का काम शुरू किया जा रहा है।

शी-लाउंज में सैनेटरी पैड से लेकर स्तनपान तक की सुविधा
नगर निगम के अधिकारियों का कहना है कि शी-लाउंज में महिलाओं के लिए सैनेटरी पैड से लेकर स्तनपान तक सभी सुविधाएं दी जाएंगी। जिससे उन्हें जरूरत पड़ने पर भटकना न पड़े। इसके लिए उनसे चार्ज लिया जाएगा या नहीं। इस पर अधिकारी चर्चा कर रहे है। फिलहाल इस बारे में कोई निर्णय नहीं लिया गया है। जहां तक अधिकारियों का मानना है कि शी-लाउंज का इस्तेमाल करने के लिए महिलाओं को इसका हल्का चार्ज देना पड़ सकता है।

ई-क्योस भी होगा तैयार
नगर निगम के अधिशासी अभियंता संजय चौहान का कहना है कि अभी घंटा घर शुरू होने के बाद वहां खाली पड़ी जमीन पर लोगों को लिए एक ई-क्योस शुरू किया जाएगा। जिससे लोग आसानी से सरकार की सभी ई- सुविधाओं से जुड़ सकें। ई-क्योस में लोग अपनी किसी भी ई-सुविधा का फायदा उठा सकते है। इसके लिए किसी भी तरह का कोई चार्ज नहीं लगेगा। वहां पर एटीएम जैसी कई तरह की मशीनें भी लगाई जाएंगी।

अभी तक या तो लाइन में लगना होता है या फिर कैफे जाना पड़ता है
अधिशांसी अभियंता संजय चौहान का कहना है कि अभी तक भारत सरकार की ई-सुविधाओं से जुड़ने के लिए लोगों को या तो विभाग में लाइन लगाकर अपना काम करना होता है। या फिर कैफे जाकर रुपये खर्च करने पड़ते है। कुछ ही लोग है जो घर से खुद ई-सुविधाओं का लाभ उठा पा रहे है। मगर ई-क्योस शुरू होने के बाद लोगों को कहीं जाने की जरूरत नहीं होगी। वहां बैठा ऑपरेटर लोगों की मदद करेगा।

खबरें और भी हैं...