वरुण गांधी की कार में भरा बाढ़ का पानी:बहेड़ी का दौरा रद्द कर निकले पीलीभीत, चौपट फसल दिखाने के लिए इंतजार करते रहे किसान

बरेली7 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
बहेड़ी में सांसद वरुण गांधी के आने का इंतजार करते ग्रामीण। - Dainik Bhaskar
बहेड़ी में सांसद वरुण गांधी के आने का इंतजार करते ग्रामीण।

भारी बारिश के चलते उत्तराखंड के दो डैम से पानी छोड़े जाने के बाद बरेली के बहेड़ी तहसील के दर्जनों गांवों में बाढ़ आ गई। गुरुवार को करीब आधा दर्जन से अधिक गांवों के हालात बद से बदतर हो गए थे। ग्रामीणों की माने तो गांव तीन से चार फिट पानी में डूब गए हैं।

मामले की जानकारी बहेड़ी और पीलीभीत के सांसद वरुण गांधी को हुई तो उन्होंने गुरुवार को बहेड़ी और पीलीभीत के बाढ़ग्रस्त इलाकों का दौरा करने का निश्चय किया। तय कार्यक्रम के अनुसार, सुबह आठ बजे उन्हें बहेड़ी पहुंचना था, लेकिन वे 10 बजे तक गांव नहीं पहुंचे। किसान उनके आने और चौपट फसल दिखाने के लिए घंटों टकटकी लगाए इंतजार करते रहे। बाद में सांसद प्रतिनिधि ने कहा कि रास्ते में सांसद की कार में पानी भर जाने से कार्यक्रम रद्द हो गया है। सांसद अब सीधे पीलीभीत के बाढ़ग्रस्त इलाके का दौरा करेंगे। जिसके बाद किसानों में मायूसी छा गई।

दौरा रद्द होने से किसानों में छाई मायूसी

बाढ़ के चलते बहेड़ी तहसील क्षेत्र के दर्जनों गांव प्रभावित हुए, लेकिन सबसे ज्यादा कुतकपुर, सहपुरा, हरहरपुर, फाजलपुर, दीननगर और कुंडरा कोठी बाढ़ की चपेट में आए थे। जहां किसानों की हजारों बीघा धान और गन्ने की फसल नष्ट हो गई थी। जिसकी जानकारी स्थानीय सांसद वरुण गांधी को लगी। उन्होंने अपने प्रतिनिधि जैनेल सिंह से बात कर हालात का जायजा लिया और गुरुवार को बाढ़ ग्रसित क्षेत्र का दौरा कर पीड़ित किसानों से मिलने का कार्यक्रम बनाया। गुरुवार सुबह आठ बजे उन्हें पहुंचना था। ग्रामीणों को पता चला तो वे जगह जगह सड़कों पर एकत्रित हो गए। करीब 10:30 बजे तक टकटकी लागाए सांसद वरुण गांधी का इंतजार करते रहे, लेकिन सांसद प्रतिनिधि जैनेल सिंह ने बताया कि वरुण गांधी काफिले के साथ बहेड़ी आ रहे थे। रास्ते में उनकी कार में पानी भर गया। वाहन निकलने का रास्ता नहीं था। इसलिए उन्हें वापस लौटना पड़ा।

बहेड़ी क्षेत्र में बाढ़ के पानी में बर्बाद हो रही धान की फसल।
बहेड़ी क्षेत्र में बाढ़ के पानी में बर्बाद हो रही धान की फसल।

तीन चार दिन बाद दौरे का दिया आश्वासन
सांसद प्रतिनिधि ने बताया कि फोन पर वरुण गांधी से बात हुई है। उन्होंने तीन से चार दिन में बहेड़ी क्षेत्र के भ्रमण की बात कही है। हालांकि किसानों के चेहरों पर उनके नहीं आने की मायूसी साफ झलक रही थी।

अन्य कार्यक्रम न हो लेट, इसलिए बहेड़ी दौरा किया रद्द
सांसद प्रतिनिधि जैनेल सिंह ने बताया कि सुबह 8 बजे से 9 बजे तक सांसद का बहेड़ी दौरा था। उसके बाद उनका दौरा पूरनपुर और पीलीभीत के बाढ़ ग्रस्त इलाकों के निरीक्षण का था। बहेड़ी दौरा लेट हो गया था। पूरनपुर और पीलीभीत का दौरा लेट न हो जाए इसलिए बहेड़ी दौरा रद्द कर दिया।

खबरें और भी हैं...