फर्जी फायर सर्टिफिकेट से नर्सिंग स्कूल की मान्यता:शहर के चार अस्पतालों ने नर्सिंग स्कूल के लिए किया आवेदन, जांच में प्रमाण पत्र फर्जी पाए गए, नोटिस जारी

बरेली4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

जिले के चार अस्पतालों ने नर्सिंग पैरामेडिकल ट्रेनिंग स्कूल खोलने के लिए उत्तर प्रदेश स्टेट मेडिकल फैकल्टी लखनऊ में आवेदन किया। जिसके लिए उन्होंने अग्निशमन विभाग के फर्जी प्रमाण पत्र लगा दिए। मामले की जानकारी तब हुई जब लखनऊ से प्रमाण पत्रों का वैरीफिकेशन होने के लिए बरेली आया। मामले में मुख्य अग्निशमन अधिकारी ने डीएम, सीएमओ और एसएसपी को जानकारी दी। सीएमओ ने चारो अस्पतालों को नोटिस जारी किया है।

इन अस्पतालों ने लगाया फर्जी प्रमाण पत्र
दरअसल, जिले के महेंद्र गायत्री स्कूल ऑफ नर्सिंग फतेहगंज पश्चिमी, महेंद्र गायत्री अस्पताल इज्ज्तनगर, अजय प्रतिमा अस्पताल और स्टार इंस्टीट्यूट ऑफ नर्सिंग फरीदपुर ने फर्जी प्रमाण पत्र लगाकर मान्यता लेने की कोशिश की। मगर जब यह जांच में पकड़ में आया तो सीएमओ बलवीर सिंह ने सभी अस्पतालों को नोटिस जारी कर दिया है। यदि अस्पताल संतुष्टि जनक जबाव नहीं दे पाए तो उनके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

अनुमति के बाद खोले जा सकते है स्कूल
उत्तर प्रदेश स्टेट मेडिकल फैकल्टी लखनऊ में नर्सिंग ट्रेनिंग सेंटर के लिए सभी जिलों के चिकित्सा संस्थान आवेदन करते है। आवेदन स्वीकृति के बाद संस्थानों को नर्सिंग और पैरामेडिकल स्टाफ प्रशिक्षण केंद्र खोलने की अनुमिल मिलती है। इसी के साथ आवेदन पत्र के साथ अग्निशमन विभाग का अनापत्ति प्रमाण पत्र भी लगाया जाता है। जो कि इन अस्पतालों ने फर्जी लगा दिया।

तीन दिनों के अंदर कार्यवाई की मांग
सीएफओ ने सीएमओ, डीएम को लिखे पत्र में तीन दिनों के अंदर कार्रवाई की मांग की है। उन्होंने कहा है कि तीन दिनों में इसकी जांच के बाद कार्रवाई की जाए। स्वास्थ्य विभाग की तरफ से इसकी जांच डिप्टी एसीएमओ डॉ. सीपी सिंह को सौंपी है।

खबरें और भी हैं...