• Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Bareilly
  • Religion Contractors Pelted Stones At Home Of Kamran In Bareilly As He Compare PM Modi To Ram And CM Yogi To Krishna, Police Covered Up The Matter See VIDEO

मोदी-योगी को राम-कृष्ण कहा; हुई पिटाई, घर पर पथराव:बरेली के कामरान ने भाजपा की जीत पर बांटी थी मिठाई, पुलिस ने की लीपापोती VIDEO

बरेली4 महीने पहले
पुलिस ने घरेलू मामला बताते हुए हल्की धाराओं में केस दर्ज किया था। - Dainik Bhaskar
पुलिस ने घरेलू मामला बताते हुए हल्की धाराओं में केस दर्ज किया था।

बरेली पुलिस का एक कारनामा सामने आया है। मामला प्रधानमंत्री मोदी और योगी से जुड़ा था। सात अप्रैल को बारादरी थाना क्षेत्र के कामरान ने मोदी को राम और योगी को कृष्ण कहकर भाजपा की जीत पर मिठाई बांटी थी। इससे नाराज उसी के बिरादरी के धर्म के ठेकेदारों ने उसे रोजा रहने के बाद भी सड़क पर गिराकर पीटा था। इतना ही नहीं, दर्जनों की संख्या में आरोपितों ने उसके घर पर पथराव किया था।

पीड़ित ने बारादरी थाने में भी शिकायत की, लेकिन पुलिस ने इस मामले में खेल कर दिया। बताया कि मामला सिर्फ पारिवारिक मारपीट का है। इसके बाद मामूली धाराओं में कार्रवाई की गई। अब पीड़ित ने एक CCTV वीडियो जारी किया है, जिसमें दर्जनों की संख्या में धर्म के ठेकेदार उसके घर पर पथराव कर रहे हैं। वीडियो के सामने आने के बाद बरेली पुलिस की कार्रवाई पर सवाल खड़े हो गए हैं।

पुलिस ने महज चालान कर निपटाया था मामला

कामरान की जमकर हुई थी पिटाई, वह बुरी तरह घायल हो गए थे।
कामरान की जमकर हुई थी पिटाई, वह बुरी तरह घायल हो गए थे।

प्रदेश में भाजपा की सरकार बनने और योगी के मुख्यमंत्री की शपथ लेने के बाद बारादरी के कामरान ने सात अप्रैल को रोजा खोलने के बाद सैलानी बाजार में भाजपा की जीत पर मिठाई बांटी थी। इसके साथ ही उसने भाजपा की योजनाओं की सराहना करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को राम, तो मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को कृष्ण बताया था। उसी दौरान वहां मौजूद धर्म के ठेकेदारों ने उसे गाली देना शुरू कर दिया।

कामरान ने जब इसका विरोध किया, तो उसे वहीं सड़क पर गिराकर पीटा गया और लहूलुहान कर दिया गया था। किसी तरह वह जान बचाकर घर भागा और खुद को घर में कैद कर लिया था। इसके बाद धर्म के ठेकेदारों की भीड़ ने उसके घर चढ़ाई कर दी। दर्जनों की संख्या में मौजूद दबंगों ने उसके घर पर पथराव किया था। पुलिस ने सिर्फ पांच लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया था।

थाने में नहीं हुई सुनवाई, तो भाजपा नेताओं की ली मदद

मारपीट के बाद घर पर चढ़ाई कर पथराव करते हुए लोग सीसीटीवी वीडियो में हुए कैद।
मारपीट के बाद घर पर चढ़ाई कर पथराव करते हुए लोग सीसीटीवी वीडियो में हुए कैद।

कामरान ने बताया कि किसी तरह वह लहूलुहान हालत में छुपते-छुपाते बारादरी थाने पहुंचा, तो वहां की पुलिस ने संगीन आरोप सुनकर मामला को दबाना शुरू कर दिया। मामले को पारिवारिक विवाद बताकर कार्रवाई से मना कर दिया।

इसके बाद कामरान ने मामले की शिकायत भाजपा नेताओं से की और मदद मांगी। भाजपा नेताओं ने जब फोन किया तो पुलिस ने अपने हिसाब से तहरीर लिखवाई और घर पर चढ़ाई कर पथराव का जिक्र नहीं कराते हुए मामूली धाराओं में मामला दर्ज कर निपटा दिया था।

पथराव की घटना CCTV में कैद, पुलिस पर सवाल

वहीं, अपने साथ हुए जुल्म को लेकर कामरान पुलिस की इस कार्रवाई से परेशान था। इसी दौरान उसे पास के घर में लगे एक CCTV में उस दिन के पथराव की घटना कैद मिल गई। इसके बाद कामरान ने उस CCTV वीडियो को कब्जे में लिया। अब वह सबूत के तौर पर उसे दिखा रहा है। कामरान खुराफातियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की मांग करते हुए बारादरी पुलिस की कार्य प्रणाली पर भी सवाल उठा रहा है।

मुख्यमंत्री से मिलकर पुलिस की शिकायत करेगा
कामरान की मानें, तो बारादरी पुलिस ने जिस प्रकार अफसरों को गुमराह किया और मामले में लीपापोती की, वह गलत है। वह अब चुप नहीं बैठेगा, अब वह CCTV में कैद इस घटना को सबूत के तौर पर ले जाकर सीधे मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से मिलकर शिकायत कर न्याय की मांग करेगा।

उसका कहना है कि वह भाजपा समर्थक है। उसने अगर भाजपा की जीत पर मिठाई बांटकर मोदी को राम और योगी को कृष्ण कहा, तो इसमें क्या गलत किया था?