सूदखोरी में लापता सर्राफ मामला:तीन दिनों से लापता सर्राफ के परिजनों का आरोप, आरोपित व्याज लेने के बाद कहते थे हाथ जोड़ो, पैर छुओ

5 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
एसपी देहात राजकुमार अग्रवाल के यहां न्याय की गुहार लेकर पहुंचे लापता सर्राफ के परिजन। - Dainik Bhaskar
एसपी देहात राजकुमार अग्रवाल के यहां न्याय की गुहार लेकर पहुंचे लापता सर्राफ के परिजन।

उत्तर प्रदेश के बरेली में सूदखोरों से परेशान होकर आत्महत्या का एक और मामला सामने आया है। हालांकि इस बार युवक को आत्महत्या करने से तो बचा लिया मगर उसका बड़ा भाई लापता हो गया। पुलिस मामले की छानबीन में जुटी है। इस मामले में परिजनों ने चार लोगों के नामजद रिपोर्ट दर्ज कराई है।

दरअसल, परेशान सर्राफ ऋषभ गोयल और विनय गोयल मंगलवार को अपने घर से सुसाइड करने के लिए निकल गए। गांव वालों ने देखा तो ऋषभ को तो घर भेज दिया लेकिन विनय गोयल लापता हो गए। विनय की लोकेशन और स्कूटी पुलिस को गढ़मुक्तेश्वर में मिली। जिसमें से एक सुसाइड नोट मोबाइल भी बरामद हुआ। मामले में प्रेमनगर पुलिस ने सुसाइड नोट और परिजनों की तहरीर के आधार पर विक्रम रस्तोगी, राधाकृष्ण रस्तोगी, अनिल अग्रवाल और प्रदीप अग्रवाल के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया। शुक्रवार को परिजन इस मामले में एसपी देहात राजकुमार अग्रवाल से भी मिले।

दोनों भाईयों ने लिया था कर्ज
दरअसल, मूल रूप से आंवला के रहने वाले ऋषभ गोयल और विनय गोयल आपस में भाई है। दोनों की बरेली का आलम गिरी गंज में सर्राफा की दुकान है। मगर इन दिनों प्रेम नगर थाना इलाके में रहते हैं। परिजनों ने बताया कि ऋषभ और विनय गोयल ने अलमगीरी गंज के ही कुछ सर्राफों से पैसे उधार लिए थे। जिसके बाद उन्होंने 4 से 8 फ़ीसदी का ब्याज वसूलना शुरू कर दिया। हालात यह हो गए कि सूदखोर घर पर आकर तगादा करने और अपशब्द बोलने लगे। जबकि परिजन करीब 10 गुना तक ब्याज चुका चुके थे। इसके बाद भी उनका तगादा खत्म नहीं हो रहा था इन सब से परेशान विनय गोयल ऋषभ गोयल दोनों आत्महत्या करने के लिए चले गए। बीच रास्ते के लोगों ने दोनों को वापस कर दिया। मगर ऋषभ गोयल तो वापस आ गए लेकिन विनय गोयल अभी तक वापस नहीं आए।

परिवार की चारों महिलाओं के जेवर भी ले गए आरोपी
विनय गोयल की पत्नी श्रुति गोयल का आरोप है की आरोपितों ने ब्याज वसूलने की इतनी हद पार कर दी कि वह घर पर आकर महिलाओं के जेवर भी ले गए। इसके बाद भी उन्होंने परेशान करना नहीं छोड़ा इन सब से परेशान आकर विनय गोयल सुसाइड करने के लिए कहीं लापता हो गए 3 दिन बीत जाने के बाद भी अभी तक उनका कोई सुराग नहीं मिला है।

जिस दिन से पति लापता, उसी दिन से ज्यादा कर रहे परेशान
श्रुति का आरोप है कि जिस दिन से उनके पति गायब हुए हैं आरोपितों ने उन्हें और परेशान करना शुरू कर दिया है। सुबह शाम उनके घर आते हैं और धमका कर चले जाते हैं। हालात यह हो गए हैं कि उन्होंने दुकान खोलने पर भी रोक लगा दी है। जिसकी वजह से अब परिजन अब बेहद परेशान हो चुके है। उन्होंने एसपी देहात से मुलाकात कर मामले में न्याय की गुहार लगाई है।

खबरें और भी हैं...