महिला की ससुराल में संदिग्ध मौत, सुबह शव जलाया:6 साल पहले हुई थी शादी, मायके पक्ष को सूचना दिए बिना ही जला दिया शव

बरेली3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
6 साल पहले हुई थी शादी, दो बच्चे होने के बाद भी 2 लाख रुपये के लिए पूजा को करते थे प्रताड़ित। - Dainik Bhaskar
6 साल पहले हुई थी शादी, दो बच्चे होने के बाद भी 2 लाख रुपये के लिए पूजा को करते थे प्रताड़ित।

बरेली के भमौरा में एक युवती की संदिग्ध हालत में बुधवार देर रात मौत हो गई। आरोप है कि ससुरालियों ने मायके पक्ष को बिना सूचना दिए ही आननफानन में सुबह ही शव को जला दिया। सुबह कुछ लोगों ने लड़की पक्ष को फोन पर बताया तो वह मौके पर पहुंचे तो शव पूरी तरह से जल चुका था। मायके पक्ष का आरोप है कि दहेज की मांग पूरी नहीं होने पर पति समेत ससुरालियों ने महिला की गला दबाकर हत्या कर दी।

शिकायत के बाद भी भमोरा पुलिस ने नहीं की कार्रवाई तो पीड़ित पक्ष ने SSP से की शिकायत तो कार्रवाई के आदेश।
शिकायत के बाद भी भमोरा पुलिस ने नहीं की कार्रवाई तो पीड़ित पक्ष ने SSP से की शिकायत तो कार्रवाई के आदेश।

उसके बाद शव को चोरी से गांव में ही जला दिया। पीड़ित परिवार का आरोप है कि बुधवार शाम को उन्होंने पुलिस को कार्रवाई के लिए तहरीर दी लेकिन पुलिस ने सुनवाई नहीं की। गुरुवार को पीड़ित परिवार SSP रोहित सिंह सजवाण से मिला तो उन्होंन भमोरा पुलिस को जांच कर कार्रवाई के आदेश दिए हैं।

6 साल पहले हुई थी शादी, दो बच्चे भी थे

बदायूं में थाना बिनावर के नरखेड़ा गांव निवासी बसन्ती पत्नी स्व. मोहन लाल ने बताया कि उनके पति ने 6 साल पहले बेटी पूजा का विवाह बरेली के भमोरा निवासी पप्पू पुत्र हरपाल के साथ किया था। शादी में 2 लाख नगदी समेत लाखों रुपये खर्च किए थे। आरोप है कि उसके बाद भी पप्पू, उसकी मां, जेठ छेदालाल और उसकी पत्नी समेत अन्य ससुराली दहेज के लिए प्रताड़ित कर पूजा से मारपीट कर उसे प्रताड़ित करते थे।

आरोप है कि वह दहेज में 2 लाख की मांग कर रहे थे। इस दौरान पूजा के दो बच्चे बेटा वंशी 4 वर्षा और बेटी अंजली 2 वर्ष भी हुए लेकिन उसके बाद भी दहेज के प्रताड़ित करना नहीं छोड़ा। उक बरी पति समेत ससुरालियों ने उसे मारने का प्रयास किया तो पूजा मायके चली गई थी। जिसके बाद किसी तरह परिजनों ने कुछ नकदी देने का भरोसा दिया तो पूजा ससुराल गई लेकिन उसके बाद भी ससुराली उसे पीटते रहते थे। आरोप है कि बुधवार सुबह 7 बजे उन्हें सूचना मिली कि पूजा की ससुरालियों ने गला दबाकर हत्या कर दी है सुबह ही शव को गांव में जला दिया है।

घटना की जानाकरी पर परिजन जब दोपहर तक बेटी की ससुराल पहुंचे तो ससुराल में कोई नहीं मिला सारे ससुराली मरघट में शव जलकर खड़े थे। आरोप है कि जब पूजा के परिजनों ने विरोध किया तो ससुराली मायके पक्ष को धमकाते रहे। शाम को परिजन भमोरा थाने तहरीर लेकर पहुंचे लेकिन आरोप है कि पुलिस ने मुकदमा दर्ज करने के बजाए जांच के नाम पर टरका दिया। जिसके बाद गुरुवार सुबह पीड़ित परिवार ने SSP रोहित सिंह सजवााण से शिकायत की तो उन्होंने कार्रवाई के आदेश जारी कर दिए।

मायके पक्ष को नहीं दी सूचना, चोरी से जलाया शव

मृतका पूजा की मां बसन्ती ने बताया कि आरोपितों ने हत्या के बाद पूजा की मौत की सूचना तक किसी को भी नहीं दी। चोरी छिपे तड़के ही शव जला दिया गया। यहां पूजा को जलाने के बाद भी मौत की सूचना नहीं दी गई। मौत की सूचना गांव के ही एक युवक ने पूजा की बहन को फोन कर बताया।

जिसके बाद उसने बसंती और पूरे परिवार को घटना की सूचना दी। परिजनों ने बताया कि ग्रामीणों ने बताया कि महिला के गले पर रस्सी का निशान था। जिससे यह साफ है कि ससुरालियों ने उसकी गला घोट कर हत्या की है।

खबरें और भी हैं...