बरेली...5 स्थानों पर लगे ऑक्सीजन प्लांट:शोक संतप्त परिवारों के सदस्यों ने किया शिलान्यास, सेना ने उठाया प्लांट लगाने का कदम

बरेलीएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
यूबी एरिया में प्लांट का फीता काट कर शुभारंभ करते  सैन्य अधिकारी - Dainik Bhaskar
यूबी एरिया में प्लांट का फीता काट कर शुभारंभ करते सैन्य अधिकारी

भारतीय सेना ने विभिन्न स्थानों पर ऑक्सीजन की आपूर्ति बढ़ाने के लिए अब ऑक्सीजन संयंत्र खरीदे हैं। कोविड 19 महामारी से निपटने की पहल के तहत, भारतीय सेना ने पांच स्थानों पर लिक्विड मेडिकल ऑक्सीजन प्लांट स्थापित किए गए हैं। इन प्लांट का शुभारंभ कोविड से शोक संतप्त परिवारों के सदस्यों द्वारा किया गया। जिन्होंने महामारी के दौरान अपने प्रियजनों को खो दिया था। महामारी के भविष्य के प्रकोप से निपटने के लिए सेना द्वारा यह प्लांट लगाने का कदम उठाया गया है।

6 हजार लीटर एलएमओ की क्षमता
बरेली में कोविड से लड़ने के लिए बुनियादी ढांचे के विस्तार के लिए एरिया मुख्यालय की आपातकालीन शक्तियों के तहत स्थापित 6 हजार लीटर एलएमओ की क्षमता वाला संयंत्र है। जीओसी यूबी एरिया ने लगातार कोविड रोगियों की देखभाल के लिए अस्पतालों की सराहना करते हुए सभी स्थानों पर निर्बाध ऑक्सीजन आपूर्ति सुनिश्चित करने की आवश्यकता पर बल दिया है। जिसमें रोगियों को सर्वोत्तम देखभाल प्रदान करना भी शमिल है। बरेली में इस प्लांट का उद्घाटन जीओसी यूबी एरिया, सीओएस यूबी एरिया, एमजी मेड यूबी एरिया, कमांडेंट एमएच बरेली और अन्य वरिष्ठ सेना के अधिकारियों की उपस्थिति में किया गया था। इस दौरान नर्सिंग अधिकारी और अस्पताल के कर्मचारी भी शामिल रहे। इसी तरह एमएच देहरादून में डिप्टी जीओसी और एसटीएन कमांडर यूके सब एरिया, कमांडेंट एमएच देहरादून और अन्य अधिकारियों की उपस्थिति में दो ऑक्सीजन प्लांट का उद्घाटन किया गया। इसी तरह एमएच रुड़की में ऑक्सीजन प्लांट का उद्घाटन किया गया। एमएच रुड़की में संयंत्रों का उद्घाटन किया गया।

भारतीय सेना महामारी से निपटने को तैयार
सेना के अधिकारियों का कहना है कि भारतीय सेना जरूरत के समय में लोगों की मदद के लिए हमेशा तैयार है। भविष्य में किसी भी महामारी से निपटने के लिए सभी आवश्यक कदम उठाए जा रहे हैं। भारतीय सेना राष्ट्र की सेवा में सबसे आगे है, प्लांट का उद्घाटन इस महामारी से निपटने का प्रयास है।

खबरें और भी हैं...