• Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Bareilly
  • The Robbery By Taking The Family Hostage In Bareilly...Faridpur: On The Strength Of A Gun, Miscreants Made Hostage, Then Robbed Cash Jewelery By Beating

बरेली में परिवार को बंधक बनाकर लाखों रुपए की डकैती:बदमाश तमंचा दिखाकर घर में घुसे थे, घरवालों को पीटा, नकदी जेवर लेकर भागे

बरेली8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
बदमाशों ने दरवाजा बंद देख अरविंद से आवाज देकर दरवाजा खुलवाने के लिए कहा था। - Dainik Bhaskar
बदमाशों ने दरवाजा बंद देख अरविंद से आवाज देकर दरवाजा खुलवाने के लिए कहा था।

बरेली के फरीदपुर स्थित सरकड़ा गांव में शुक्रवार देर रात नकाबपोश बदमाशों ने तमंचे के बल पर एक परिवार को बंधक बना लिया। इसके बाद पिटाई कर घर में रखे लाखों के जेवर और नकदी लूट ली। इस दौरान घर में मौजूद मामा-भांजे के जेब की भी बदमाशों ने तलाशी ली तो दोनों के जेब से 500 रुपये मिलने से नाराज बदमाशों ने उन्हें और पीटा फिर शोर मचाने पर गोली मारने की धमकी देते हुए भाग नकले।

मामा-भांजे को सटाया तमंचा

फरीदपुर थाना क्षेत्र के सरकड़ा गांव निवासी अरविन्द ने बताया कि शुक्रवार को उनके मामा घर आए हुए थे। वह खाना खाकर मामा के साथ घर के बाहर चारपाई पर सो रहे थे। देर रात आधा दर्जन से अधिक बदमाश पहुंचे और अरविंद को जगाया तो मामा भी उठ गए। जब तक दोनों कुछ समझ पाते बदमाशों ने तमंचा सटा दिया और शोर मचाने पर गोली मारने की धमकी दी। अरविंद का परिवार सो रहा था और दरवाजा अंदर से बंद था। बदमाशों ने दरवाजा बंद देख अरविंद से आवाज देकर दरवाजा खुलवाने के लिए कहा। जिसके बाद अरविंद ने आवाज दी तो घर वालों ने उनकी आवाज सुनकर दरवाजा खोला तो सभी बदमाश अंदर दाखिल हो गए। बदमाशों के हाथ में तमंचे और सरिया व चाकू देख परिवार सहम गया।

शोर मचाने पर हत्या की धमकी

इसके बाद बदमाशों ने पूरे परिवार को धमकाते हुए घर के अंदर बंधक बना लिया। शोर मचाने पर हत्या की धमकी देने लगे। इस दौरान किसी ने भी जरा सा बोला तो बदमाशों ने उन्हें पीटा भी। बदमाशों को देख अरविन्द की पत्नी और बच्चे सहम गए। जिसके बाद बदमाशों ने जबरन आलमारी का लॉक खुलवाया और लॉकर में रखे करीब दो लाख के जेवर समेत हजारों की नकदी निकाल ली। इसके बाद बदमाशों ने घर में रखे बक्से और अन्य सामान भी खंगाला लेकिन कुछ नहीं मिला। बदमाश आपस में सिर्फ इशारे से बातचीत कर रहे थे। इस दौरान कोई बदमाश एक दूसरे के नाम नहीं ले रहा था।

जेब में मिले 500 तो और पीटा

घर में लूटपाट के बाद बदमाशों ने अरविन्द और उनके मामा के जेब की तलाशी ली तो दोनों की जेब तलाशी में सिफ 500 रुपये मिले। जिसके बाद बदमाशों ने उन्हें गाली-गलौज करते हुए और पीटा कि जेब में इतना ही रखते हो। इसके बाद बदमाश धमकी देते हुए चले गए। बदमाशों के जाने के बाद खौफजदा परिजनों ने पास-पड़ोसियों को घटना की जानकरी दी।

डकैती को चोरी में कराया दर्ज

घटना की जानकारी पुलिस को दी गई तो हड़कंप मच गया। पीड़ित पर पुलिस ने दबाव बनाया कि वह डकैती नहीं चोरी की तहरीर दे। जब उसने मना किया तो उसे झांसा दिया कि चोरी का मामले में जल्द बरामदगी होगी है। उसके बाद जबरन उससे चोरी की तहरीर लिखकर डकैती की जगह चोरी का मामला दर्ज किया गया। हालांकि बाद में पीड़ित ने खुलकर कहा कि पुलिस ने जबरन चोरी की तहरीर लिखवाई है। इस मामले में sp देहात राजकुमार अग्रवाल ने कहा कि पीड़ित ने जो तहरीर दी थी उस आधार पर कार्रवाई की गई है। पड़ताल में अगर डकैती निकली तो धराएं बढ़ा दी जाएंगी। फिलहाल बदमाशों की तलाश की जा रही है।