परिवार परामर्श केंद्र से बेटी लेकर भागा युवक:समझौते के लिए आया था युवक, बेटी की बरामदगी के लिए मां ने एसएसपी से लगाई गुहार

बरेलीएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
समझौते के लिए आया था युवक, बेटी की बरामदगी के लिए मां ने एसएसपी से लगाई गुहार। - Dainik Bhaskar
समझौते के लिए आया था युवक, बेटी की बरामदगी के लिए मां ने एसएसपी से लगाई गुहार।

बरेली में दहेज प्रताड़ना के मामले में परिवार परामर्श केंद्र काउंसलिंग के लिए आया एक युवक 7 साल की बेटी को मां से छीनकर भाग गया। इस दौरान मौजूद काउंसलर ने भी युवक को रोकने का प्रयास किया लेकिन वह नहीं माना और मां के गोद से बेटी उठाकर फरार हो गया। काफी प्रयास के बाद भी युवक का पता नहीं चला तो पीड़िता ने एसएसपी से शिकायत कर कार्रवाई की मांग की है।

जान से मारने की धमकी देकर छीनी बच्ची

किला थाना क्षेत्र के बड़ी बमनपुरी निवासी दीप्ती रस्तोगी ने बताया कि उसकी शादी मादारीगेट कोतवाली निवासी नितिन रस्तोगी के साथ हुई थी। आरोप है कि शादी के बाद दहेज से नाखुश पति व ससुराली उसे दहेज के लिए प्रताड़ित करते थे और आए दिन मारपीट करते थे। 21 अप्रैल को उसने एसएसपी ऑफिस में शिकायत की तो काउंसलिंग के लिए मामला परिवार परमार्श केंद्र भेजा गया।

पीड़िता ने बताया कि 19 मई को उसे काउंसलिंग के लिए पुलिस लाइन बुलाया गया। वह 7 साल की बेटी को लेकर खुशी को लेकर वहां पहुंची। उसी दौरान पति नितिन व ससुर वेद प्रकाश रस्तोगी वहां पहुंचे। काउंसलिंग के लिए दोनों काउंसलर के पास पहुंचे। आरोप है कि उसी दौरान पति नितिन व ससुर ने मारपीट शुरू कर दी और बेटी खुशी को जबरदस्ती छीन लिया। महिला काउंसलर ने रोकने का प्रयास किया लेकिन पति व ससुर उसे जान से मारने की धमकी देते हुए बेटी को छीन कर ले गए।

पीड़िता ने बताया कि कानूनी रूप से उसने बालिग होने तक बेटी को अपने साथ रखने और उसकी देखभाल का अधिकार भी ले रखा है। फिलहाल शिकायत के बाद एसएसपी ने मासूम को बरामद करने और जांच के आधार दोषी के खिलाफ कार्रवाई करने के आदेश जारी कर दिए हैँ।