• Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Basti
  • Bhanpur
  • The Meeting Was Stopped For 4 Months, The Message Was Sent To The Brother Before He Died, The Boy Is A Teenager From Hindu And Muslim Community, बस्ती में एक नाबालिग प्रेमी जोड़े ने सुसाइड कर लिया।

नाबालिग प्रेमी-प्रेमिका ने सुसाइड किया:लड़का हिंदू, लड़की मुस्लिम थी; पंचायत ने दोनों को अलग करने का फैसला सुनाया था

भानपुर, बस्ती2 महीने पहले

बस्ती जिले में एक नाबालिग प्रेमी जोड़े ने सुसाइड कर लिया। सोमवार सुबह दोनों के शव पेड़ पर लटके मिले हैं। लड़का हिंदू था। लड़की मुस्लिम थी। दोनों एक ही स्कूल में पढ़ते थे। 4 महीने पहले दोनों को गांव के लोगों ने एक साथ देख लिया था। परिवारों में विवाद हुआ। गांव में पंचायत हुई। पंचायत में फैसला हुआ कि दोनों को अलग कर दिया जाए। यानी मिलने नहीं दिया जाए। इसके बाद लड़की के परिवार वाले ने उसे गांव से 20 किमी दूर नानी के यहां धोषण गांव भेज दिया था।

4 महीने से दोनों एक दूसरे से मिले नहीं थे। इस बात से दोनों बहुत परेशान थे। रविवार को प्रेमी अपने गांव रुधौली में प्रेमिका से मिलने उसकी नानी के गांव गया। वहां दोनों एक-दूसरे से मिले। फिर जान देने का खौफनाक फैसला किया। देर रात दोनों ने उसी गांव में आत्महत्या कर ली।

खबर में आगे बढ़ने से पहले इस पोल में हिस्सा लेकर अपनी राय दे सकते हैं।

सुसाइड से पहले लड़के ने भाई को किया मैसेज
सुसाइड करने से पहले लड़के ने अपने भाई को मैसेज किया। उसमें लिखा था, "मैं अब कभी वापस नहीं आऊंगा, बहुत दूर जा रहा हूं।" मृतक के भाई ने कहा, "मेरा भाई रविवार को घर से निकला था। शाम तक जब वह घर नहीं पहुंचा तो उसको फोन किया। लेकिन उसने फोन काट दिया। थोड़ी देर बाद उसका मैसेज आया 'बहुत दूर जा रहा हूं'।"

बड़े भाई ने कहा, "मैसेज आने के बाद भाई की तलाश की। लेकिन वो कहीं नहीं मिला। सोमवार सुबह उसकी मौत की खबर आई। जिस लड़की से मेरे भाई का अफेयर चल रहा था। उसकी नानी के घर के पास ही दोनों के शव पेड़ से लटके मिले हैं।" सुसाइड की जानकारी पर पुलिस मौके पर पहुंची। शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।

दोनों ने पेड़ की एक ही डाल पर फंदा लगाया और उससे लटक गए। ऐसा लग रहा है कि दोनों सुसाइड के लिए रस्सी लेकर ही यहां पहुंचे थे।
दोनों ने पेड़ की एक ही डाल पर फंदा लगाया और उससे लटक गए। ऐसा लग रहा है कि दोनों सुसाइड के लिए रस्सी लेकर ही यहां पहुंचे थे।

दोनों का 1 साल से चल रहा था अफेयर
मृतक के बड़े भाई ने बताया, "मेरे भाई और लड़की का 1 साल से अफेयर चल रहा था। दोनों एक ही स्कूल में पढ़ते थे। लड़की का घर हमारे घर से 100 मीटर की दूरी पर है। भाई की उम्र 17 थी। वह 9वीं में पढ़ता था। लड़की 16 साल थी।"

लड़की को नानी के घर भेज दिया गया था
भाई ने यह भी बताया, "करीब 4 महीने पहले दोनों को गांव के लोगों ने स्कूल के पास एक साथ देख लिया था। इसकी शिकायत पंचायत में की गई। पंचायत में फैसला हुआ कि दोनों को अलग कर दिया जाए। लड़की को उसके रिश्तेदार के यहां भेज दिया जाए। उसके बाद लड़की नानी के घर चली गई। यहां मेरा भाई बहुत परेशान रहता था। कई बार मैंने उसको समझाया पर वो नहीं माना। वह अक्सर लड़की का नाम लेकर रो देता था। रविवार को वह बहुत ज्यादा परेशान था।"

पुलिस ने फंदा लगाने के लिए यूज की गई रस्सी को जब्त कर लिया है। मामले की जांच कर रही है।
पुलिस ने फंदा लगाने के लिए यूज की गई रस्सी को जब्त कर लिया है। मामले की जांच कर रही है।

गाड़ी लेकर घर से मिलने गया था
भाई ने बताया, "रविवार को मेरा भाई गाड़ी लेकर घर से निकला था। हम लोगों को लगा कहीं गया होगा, लेकिन वह बहुत देर तक घर वापस नहीं आया। मैंने उसको कॉल किया पर उसने फोन काट दिया। मैंने मैसेज किया। जिस पर उसने रिप्लाई किया कि 'वो अब कभी नहीं आएगा'। उसके बाद हम लोगों ने उसको बहुत ढूंढा, लेकिन वो कहीं नहीं मिला। सोमवार सुबह उसकी मौत की खबर आई।"

पुलिस ने बताया कि लड़की की मां नहीं हैं। पिता मुंबई में रहते हैं। वह तीन बहनों और दो भाइयों में सबसे बड़ी थी। फिलहाल, लड़की के परिवार वालों ने इस मामले में कुछ भी बताने से इंकार कर दिया है। वहीं, लड़का, तीन भाइयों और एक बहन में सबसे छोटा था।