हरैया में संपूर्ण समाधान दिवस:तहसील में लोगों की भीड़, लगी लंबी लाइन

हरैया10 दिन पहले

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री ने सभी जनपदों के जिला अधिकारी व संबंधित अधिकारियों को निर्देश दिया है कि तहसील में आने वाले सभी फरियादियों की फरियाद को सुनकर उनकी समस्या का त्वरित निस्तारण किया जाए। लेकिन इसका बस्ती जिले के हर्रैया तहसील के अधिकारियों कोई असर नहीं पड़ता।

शनिवार को हर्रैया तहसील में आयोजित संपूर्ण समाधान दिवस के मौके पर अपनी समस्याओं की शिकायत लेकर पहुंचने वालों की लंबी कतारें सुबह से ही देखने को मिली लोग सभा कक्ष के बाहर तक लंबी कतारें लगाकर अपनी बारी का इंतजार कर रहे थे पिक अप उनकी बारी आएगी और वह संपूर्ण समाधान दिवस की अध्यक्षता कर रहे जिले के जिलाधिकारी व पुलिस अधीक्षक से अपनी फरियाद कर पाएंगे।

सुबह 10:00 बजे से लेकर के लगभग 2:00 तक फरियादियों का ताता लगा रहा कुछ फरियादी तो अपनी बारी का इंतजार करते करते जमीन पर बैठ गये सवाल यह है कि अगर तहसील के कर्मचारी व अधिकारी लोगों की समस्याएं सुनकर उनका समाधान करते हुए थे और लोगों को समय से उनकी समस्या का समाधान हो जाता होता तो शायद आज समाधान दिवस में पहुंचने वाले लोगों की लंबी भीड़ न पहुँचती इससे साफ जाहिर होता है कि सरकार चाहे जो भी आदेश निर्देश करें लेकिन जिले के तहसील के इन कर्मचारियों पर इसका कोई असर नहीं पड़ता।

हर्रैया संपूर्ण समाधान दिवस में कुल 169 शिकायते प्राप्त हुयी, जिसमें राजस्व के 81, पुलिस के 47, विकास के 14, विद्युत के 03, स्वास्थ्य, कृषि एवं जलनिगम के 01-01 तथा अन्य 21 शिकायते है। इसमें से 12 का मौके पर निस्तारण किया गया। उन्होेने अधिकारियों को निर्देशित किया है कि संपूर्ण समाधान दिवस में प्राप्त शिकायतों का मौके पर जाकर निस्तारण करें, शिकायतकर्ता को सुनें तथा नियमानुसार निस्तारण करते हुए पोर्टल पर आख्या अपलोड करें।

खबरें और भी हैं...