धामपुर में बाघ सुरक्षा एक्सप्रेस का हुआ शुभारम्भ:वन संरक्षक ने हरी झंडी दिखाकर किया बाघ एक्सप्रेस को रवाना

धामपुर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

जिले में मानव और वन्य जीवों के बीच अक्सर होने वाले संघर्ष को कम करने के मकसद से बाघ सुरक्षा एक्सप्रेस का शुभारम्भ किया गया है। वन संरक्षक, मुरादाबाद रमेश चन्द्रा ने बाघ सुरक्षा एक्सप्रेस का हरी झंडी दिखाकर शुभारम्भ किया। संवेदनशील और अतिसंवेदनशील गांवों में वन विभाग के अधिकारी जाकर किसानों को वन्य जीवों के व्यवहार के बारे में जानकारी देंगे तथा जागरुक करने को पम्पलेट भी बांटेंगे।

दिसम्बर के महीने में गन्ने की कटाई प्रारम्भ होने पर बढ़ती मानव और वन्य जीव के बीच संघर्ष की घटनाओं को कम करने और मानव, वनों एवं वन्य जीवों की सुरक्षा सुनिश्चित करने के उद्देश्य से वन प्रभाग, बिजनौर 1 दिसम्बर से 31 दिसम्बर तक बाघ सुरक्षा माह के रूप में मना रहा है।

42 गांव को संवेदनशील और 22 गांवों अति संवेदनशील की श्रेणी में बांटा

जन जागरूकता के लिए क्या करें क्या न करें कि थीम पर नगीना एवं अमानगढ़ रेंज में पड़ने वाले 42 गांव को संवेदनशील और 22 गांवों अति संवेदनशील की श्रेणी में बांटकर रेंज वार रेस्क्यू रिस्पांस टीम गठित कर उनकी जिम्मेदारी तय की गयीं है। आपको बता दें कि बाघ सुरक्षा एक्सप्रेस ज़िला बिजनौर उप प्रभागीय वनाधिकारी ज्ञान सिंह के दिशा निर्देशन में चलाई जाएगी।

खबरें और भी हैं...