बिजनौर में कारोबारी से रंगदारी मांगने वाले गैंग का खुलासा:एक सिपाही समेत 4 गिरफ्तार, लड़कियों के माध्यम से जाल में फंसाकर करते थे वसूली

बिजनौर18 दिन पहले

बिजनौर में कारोबारी से रंगदारी मांगने वाले गैंग का खुलासा किया है। इस मामले में चार आरोपियों को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। जिसमें एक पुलिसकर्मी भी शामिल है। आरोपियों के पास से एक दरोगा और एक सिपाही की वर्दी भी बरामद हुई है। जबकि इनकी एक महिला साथी फरार है। पुलिस उसकी तलाश कर रही है।

एसपी सिटी ने डॉ. प्रवीन रंजन नजीबाबाद पुलिस ने 4 आरोपियों को गिरफ्तार किया है। पकड़े गए आरोपी पंकज, दानवीर, दीपक और सुनील बेहद शातिर किस्म के हैं। जो एक महिला का इस्तेमाल कर पैसे वाले भोले-भाले लोगों को अपने जाल में फंसाते थे और उनका अपहरण कर उनसे मोटी रकम वसूलने का काम करते थे।

महिला ने व्यापारी से लिया था लिफ्ट
शेरकोट के रहने वाले ब्रश कारोबारी यशवीर 16 सितंबर को कारोबार के सिलसिले में नौकर मुकेश के साथ कार से काशीपुर गए थे। काशीपुर से रामनगर जाते समय रास्ते में एक महिला ने लिफ्ट के बहाने रोक लिया।

नौकर कर अपहरण कर मारने की दी धमकी
कुछ दूरी पर जाने पर एक अन्य कार में सवार चार लोगों ने अपने आप को पुलिस बताते हुए कारोबारी को डरा धमकाकर अपने साथ नजीबाबाद ले गए और यशवीर से 10 लाख रुपए की मांग की और उसके साथ मारपीट करने लगे। कुछ दूर जाकर यशवीर को छोड़ दिया और उसके नौकर मुकेश को अपहरण का साथ ले गए और रुपए नहीं पहुंचाने पर नौकर को जान से मारने की धमकी दी।

बिजनौर में लड़कियों के माध्यम से जाल में फंसाकर वसूली करने वाले गैंग का खुलासा।
बिजनौर में लड़कियों के माध्यम से जाल में फंसाकर वसूली करने वाले गैंग का खुलासा।

मुरादाबाद में तैनात है सिपाही
पीड़ित कारोबारी यशवीर ने पूरे मामले की जानकारी पुलिस को दी। पुलिस टीम ने चारों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। पकड़े गए आरोपियों में दीपक कुमार मुजफ्फरनगर का रहने वाला हैं और 2022 बैच का यूपी पुलिस का सिपाही है। वर्तमान में मुरादाबाद में तैनात है, लेकिन सस्पेंड चल रहा है।

बंधक बनाकर करते थे वसूली
एसपी सिटी डॉ प्रवीन रंजन सिंह ने बताया की पुलिस ने एक ऐसे गैंग को पकड़ा है, जो लड़कियों के माध्यम से लोगों को अपने जाल में फंसाकर और उन्हें बंधक बनाकर उनसे पैसा वसूलने का काम करता था। इनके खिलाफ इस तरीके के कई जगह अलग-अलग मामले भी दर्ज हैं। पुलिस ने सभी को गिरफ्तार कर लिया है और पूरे मामले की छानबीन की जा रही है। इनके कब्जे से एक दरोगा और एक सिपाही की वर्दी भी मिली है।

खबरें और भी हैं...