बिजनौर चुनाव पर चर्चा:मण्डावर में लोगों ने विकास नहीं होने की बात कही, बदलाव की वकालत

बिजनौर2 महीने पहले
बिजनौर में लोगों ने बदलाव की वकालत की है।

बिजनौर में नगर निकाय चुनाव की सरगर्मी तेज हो चुकी हैं। भले ही अभी चुनाव की तारीख का ऐलान ना हुआ हो चेयरमैन पद के प्रत्याशी हो या सभासद के सभी ने अपना प्रचार शुरू कर दिया है। वोटर को लुभाना शुरू कर दिया है। इसी कड़ी में आज दैनिक भास्कर की टीम ने मंडावर नगर पंचायत में लोगों से चुनाव पर चर्चा की और शहर में हुए विकास व आने वाले चुनाव में उनकी राय जानी।

आज दैनिक भास्कर की टीम मंडावर नगर पंचायत क्षेत्र में पहुंची और बस स्टैंड के पास रहने वाले दर्जनों लोगों से चुनाव पर चर्चा की। यहां के रहने वाले शाहज़ादा अहमद, साजिद, महबूब अहमद, नफीस अहमद, साजिद अहमद, इस्तकार, सोनू ,शोएब, वाहिद, सादिक, महबूब अली, जाहिद अहमद आदि लोगों से नगर निकाय चुनाव के बारे में उनकी राय जानी। यहां के रहने वाले लोगो ने क्षेत्र में पानी साफ सफाई और सड़कों की समस्या बताई। इस बार बदलाव की वकालत की।

जलभराव की समस्या बताई

क्षेत्रीय लोगों ने साफ-सफाई का मुद्दा उठाया और कूड़ा नहीं उठाए जाने के साथ साथ तालाब में गंदा पानी भरा होने से लोगों के मकानों और खेती खराब होने की बात कही। यहां के रहने वाले जाहिद अहमद का कहना है कि कोई भी चेयरमैन आएगा, काम तो करेगा ही, लेकिन जितना काम होना चाहिए था, उतना नहीं हुआ। हमारे क्षेत्र में कूड़ा कई-कई दिन तक नहीं उठता इस बार जो भी चेयरमैन आये वह अच्छा काम करे।

लोगों ने विकास का मुद्दा उठाया

सभासद शहजाद अहमद का कहना है कि इस बार सबसे बड़ा मुद्दा पीर के तालाब का है, जहां पूरे मंडावर का 70 पर्सेंट पानी इस तालाब में जाता है, जिसका आगे कहीं निकास नहीं है। दरबार रोड और खान कॉलोनी में सब में पानी भरा रहता है, इस बार इसका विकास कराने का प्रयास किया जाएगा। जाहिद अब्बासी का कहना है की मंडावर के जितने भी पानी की निकास हैं, वह सब आबादी को नुकसान दे रही है।साथ ही उनकी इस पानी से 10 बीघे खेती भी खराब हो जाती है।

एक साल पहले चेयरपर्सन की हो गई थी मौत

सादिक कुरैशी का कहना है की क्षेत्र में कम विकास हुआ है। आने वाले चेयरमैन से अच्छे विकास की उम्मीद है। साथ ही यहां के रहने वाले जाहिद अहमद ,महबूब अली सहित कई लोगों ने पिछले चेयरमैन के काम से संतुष्ट जताई। बता दें कि मंडावर चेयरपर्सन अफ्शा निगार का 1 साल पहले निधन हो गया था, तब से यह सीट रिक्त चल रही है।

खबरें और भी हैं...