देवराला में तेंदुए को मारे जाने का मामला:दो ग्रामीणों के खिलाफ मुकदमा दर्ज, जाल में फंसने से हुई थी मौत

खुर्जा16 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

कोतवाली शिकारपुर थाना क्षेत्र के गांव देवराला में शुक्रवार को तेंदुए की मौत के मामले में वन विभाग ने दो ग्रामीणों के खिलाफ वन्य जीव संरक्षण अधिनियम के तहत रिपोर्ट दर्ज रिपोर्ट दर्ज कराई है। तेंदुए की मौत सूअर के लिए रखे हुए जाल में फंसने की वजह से हुई थी।

शिकारपुर क्षेत्र के गांव देवराला के जंगलों में शुक्रवार को तेंदुआ दिखाई देने की सूचना से ग्रामीणों में हड़कंप मच गया था। ग्रामीणों ने तेंदूए की घेराबंदी करते हुए हुए वन विभाग के अफसरान को सूचना दी थी। सूचना पर वन विभाग की टीम मौके पर पहुंची। इस दौरान ग्रामीणों द्वारा खेत में पहले से रखे हुए सूवर फसाने के लिए रखे जाल में तेंदुआ तेंदुआ फस गया था। जिसके बाद वन विभाग ने तेंदुए को निकालने की कड़ी मशक्कत की, लेकिन उसी जाल में फस कर तड़प कर राहत और बचाव कार्य के इंतजार में ही उक्त तेंदुए की मौत हो गई। मामले में शनिवार को वन विभाग के वनरक्षक राजकुमार ने गांव कालाखूरी निवासी सोनी और रामनगर निवासी राय साहब के खिलाफ वन्य जीव सुरक्षा अधिनियम के तहत कोतवाली में तहरीर देकर रिपोर्ट दर्ज कराई है। वन विभाग के अफसरों के मुताबिक तेंदुआ संरक्षित और दुर्लभ पशु था। और उक्त ग्रामीणों की लापरवाही के चलते उसकी मौत हुई है। मामले में वन विभाग की कार्रवाई से अन्य ग्रामीणों में भी हड़कंप मच गया है। फिलहाल आरोपी फरार है।

खबरें और भी हैं...