खुर्जा में भाकियू ने की पंचायत:बारिश से खराब फसलों के मुआवजे की मांग, किसानों की कर्ज माफी का भी उठाया मुद्दा

खुर्जा, बुलंदशहर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

खुर्जा में जंक्शन रोड पर मंगलवार को भारतीय किसान यूनियन चादुनी ने पंचायत की। पंचायत में जिलाध्यक्ष सूबे सिंह डागर ने कहा कि बेमौसम हुई बारिश से किसानों की नष्ट हुई धान और सब्जी की फसल के बदले सरकार उचित मुआवजा दे। ताकि किसान परिवार का गुजारा कर सकें। कर्ज भी माफ किया जाए। पंचायत के बाद तहसीलदार को ज्ञापन दिया गया।

असगरपुर गांव के पास हुई पंचायत में यूनियन के जिलाध्यक्ष ने कहा कि बेमौसम मूसलाधार बारिश से धान और सब्जी की फसल पूरी तरीके से नष्ट हो गई। खेतों में काफी ऊपर तक पानी भर आया है, जिस कारण किसानों को फसल गल से लाखों रुपए की आर्थिक क्षति हुई है। उन्होंने सरकार से जल्द सर्वे कराए जाने की मांग की है। किसान दल ने भी अपने क्षेत्र से नुकसान हुए किसानों की सूची अफसरों को मुहैया करा दी है।

खुर्जा में सरकार से की गई मांगों की जानकारी देते भाकियू के पदाधिकारी।
खुर्जा में सरकार से की गई मांगों की जानकारी देते भाकियू के पदाधिकारी।

नलकूप का बकाया बिजली का बिल हो माफ

इसके अलावा किसानों ने बेसहारा गोवंश को गौशाला भेजने और किसानों का छह महीने के ट्यूबेल का बकाया बिजली बिल माफ करने की मांग की। पंचायत के बाद किसानों ने तहसीलदार को ज्ञापन सौंपकर मदद की मांग की। जल्द मांग पूरी नहीं होने पर किसानों ने आंदोलन की चेतावनी दी। पंचायत में अजय शर्मा, सोनपाल चौहान, सुरेश, राजू, जाहिद और इरफान मौजूद रहे।

खबरें और भी हैं...