समर कैंप का हुआ समापन:157 छात्रों को मिला प्रमाण पत्र, आचार्यों को मिला स्मृति चिन्ह

बुलंदशहर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

बुलंदशहर छह दिवसीय समर कैंप का समापन मंगलवार को हुआ। इस दौरान सांस्कृति प्रस्तुति देने वाले बच्चों को सम्मानित किया गया। कार्यक्रम में एडीएम प्रशासन डॉक्टर प्रशांत कुमार, अध्यक्ष चन्द्रभूषण मित्तल, प्रधानाचार्य राजीव सिंह, महिला संयोजिका राधा सिंह, संचालिका मेघा जालान मौजूद रहे। समर कैंप के अंतिम दिन समापन पर 157 बच्चों को एडीएम प्रशासन डॉक्टर प्रशांत कुमार ने प्रमाण पत्र वितरण किए। सभी आचार्य गण को सहयोग करने पर स्मृति चिन्ह प्रदान किए।

यह तस्वीर कैंप समाप्त होने के बाद सांस्कृतिक कार्यक्रम में प्रमाण पत्र बांटे जाने की है।
यह तस्वीर कैंप समाप्त होने के बाद सांस्कृतिक कार्यक्रम में प्रमाण पत्र बांटे जाने की है।

संस्कार सिखाता है स्कूल
एडीएम प्रशासन डॉक्टर प्रशांत कुमार ने कहा सरस्वती शिशु मंदिर में छात्र भारतीय संस्कार सीखता है और आज यहां की सभी व्यवस्था, बच्चों की शिक्षा को देखकर खुश हूं। उन्होंने भारत विकास परिषद बुलंदशहर सेवार्थ शाखा द्वारा संचालित समर कैंप की सराहना की। उन्होंने कहा कि वो पिछले दस माह से सेवार्थ शाखा के साथ जुड़े हुए हैं। कई कार्यक्रम में शामिल होने का अवसर मिला है। सेवार्थ शाखा ने जनहित में काफी सराहनीय कार्य किए हैं। उन्होंने बच्चों के उज्ज्वल भविष्य की कामना की।

प्रमाण पत्रों के साथ छात्र।
प्रमाण पत्रों के साथ छात्र।

दोबारा किया जाएगा समर कैंप आयोजन
अध्यक्ष चन्द्र भूषण मित्तल ने कहा कि समर कैंप का छह दिवसीय आयोजन काफी सफल रहा, जिसमें सेवार्थ शाखा की मातृशक्ति टीम का बहुत ही बड़ा योगदान है। उन्होंने सरस्वती शिशु मंदिर स्कूल के प्रधानाध्यापक औप सभी आचार्य गण के सहयोग पर आभार व्यक्त किया। साथ ही कहा जल्दी ही एक और समर कैंप आयोजित किया जाएगा।

इस अवसर पर विकास ग्रोवर, विशाल जालान, नितिन सचदेवा, राजपाल सिंह वर्मा, मेघा जालान, राधा सिंह, सुमन शर्मा, कामना मित्तल, निधि गर्ग, सुमन शर्मा, वीना वर्मा, सोनाक्षी, आयुष, ज्योति कुमारी, रेनू कश्यप, शिवकुमार, अनिल कुमार आदि रहे।

खबरें और भी हैं...