सीवर में फंसे मजदूर, एक की मौत:बुलंदशहर में जांच और सफाई के दौरान फंग गए थे 3 मजदूर, बिना सेफ्टी किट के ही उतरे थे सीवर में

बुलंदशहर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

बुलन्दशहर में सीवर लाइन की जांच और सफाई के दौरान तीन मजदूर सीवर लाइन में फंस गए। हालांकि मजदूरों को फायर सर्विस की रेस्क्यू टीम ने किसी तरह बाहर निकाल लिया और अस्पताल में भर्ती कराया, जहां उपचार के दौरान एक मज़दूर की मौत हो गई। मजदूर का शव पोस्टमार्टम के लिए पोस्टमार्टम हाउस भेज दिया गया है। खासबात यह है कि मजदूरों को बिना सेफ्टी किट मुहैया कराए ही सीवर में उतारा गया था। कुछ ही देर में सीवर में ऑक्सीजन की कमी और विषैली गैस रिलीज होने से मजदूर बेहोश हो गया।

काफी देर तक मजदूर जब सीवर से बाहर नहीं निकला तो उसके साथियों को चिंता हुई और एक दूसरा मजदूर अपने साथी को देखने के लिए सीवर में उतर गया। एक के बाद एक जब दोनों मजदूर काफी समय बीतने के बाद भी सीवर से बाहर नहीं निकले तब एक स्थानीय व्यक्ति सीवर में उतरा तो वहां दोनों मजदूर बेहोशी की हालत में पड़े थे। जिसके बाद स्थानीय लोगों का मजमा मौके पर लग गया।

दो मजदूर खतरे से बाहर

सूचना पर पुलिस और प्रशासन के अफसर मौके पर पहुंचे। करीब सवा घण्टा चले रेस्क्यू ऑपरेशन के बाद दो मजदूरों को सकुशल बाहर निकाल लिया गया। हालांकि इस दौरान रेस्क्यू में हीला हवाली को देखकर मजदूर के परिजन बिफर पड़े और हंगामा करने लगे। पुलिस की सख्ती के बाद मजदूर के परिजन शांत हुए। वहीं 2 मजदूर फिलहाल खतरे से बाहर बताए जा रहें है, जबकि एक मजदूर की निजी अस्पताल में उपचार के दौरान मौत हो गई है। वहीं डीएम सीपी सिंह ने रेस्क्यू ऑपरेशन में शामिल पुलिस और फायर विभाग के कर्मचारियों और अधिकारियों को सम्मानित करने की घोषणा की है।

खबरें और भी हैं...