बुलंदशहर में पूर्व ब्लॉक प्रमुख पर हमला करने वाले गिरफ्तार:पुलिस ने तीन लोगों को पकड़ा, मुठभेड़ में एक बदमाश को लगी गोली

बुलंदशहरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
बुलंदशहर में पुलिस मुठभेड़ में एक बदमाश को पैर में लगी गोली। - Dainik Bhaskar
बुलंदशहर में पुलिस मुठभेड़ में एक बदमाश को पैर में लगी गोली।

बुलंदशहर में कुछ दिन पहले पूर्व ब्लॉक प्रमुख पर हमला हुआ था। उस मामले में पुलिस ने तीन लोगों को गिरफ्तार किया है। पुलिस के साथ हुई मुठभेड़ में एक बदमाश के पैर में गोली भी लगी है। उनके पास से एक कार और पिस्टल बरामद हुआ है।

पूर्व ब्लॉक प्रमुख के काफिले पर हुआ था हमला

जिले के एसएसपी संतोष कुमार सिंह ने बताया कि 5 दिसंबर को हाजी युनूस के काफिले पर हमला हुआ था। वारदात में पांच लोग घायल हुए थे। जिनमें से युनूस के एक साथी खालिद की उपचार के दौरान मौत हो गई थी। हाजी यूनुस ने प्रकरण में अपने चार भतीजों अनस (जो वर्तमान में जेल में निरुद्ध है), दानिश, जैद और असद के अलावा नवेद, भतीजों के रिश्तेदार हारिश समेत आठ-दस अज्ञात के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई थी। पुलिस ने रिपोर्ट दर्ज कर जांच पड़ताल कर दी थी। तो सामने आया कि मामले में पांच शूटर और दो रेकी करने वाले बदमाश थे।

हमले के वक्त एक बदमाश भी हुआ था घायल

वारदात के दौरान यूनुस पक्ष की ओर से की गई फायरिंग में एक बदमाश भी घायल हुआ था। जिसे गत 10 दिसंबर को एसओजी ने दिल्ली के एक अस्पताल से गिरफ्तार कर मामले का राजफाश कर दिया था। आरोपी की शिनाख्त लाखन के रुप में हुई थी। उसके पेट में गोली लगी हुई थी। इसके बाद पुलिस ने अन्य बदमाशों की तलाश शुरू की। पुलिस टीम क्षेत्र में गश्त कर रही थी। इस दौरान उन्हें सूचना मिली कि तीन हमलावर अड़ौली तिराहे से बुलंदशहर की तरफ आने वाले हैं। जिनके पास घटना में प्रयुक्त असलहा भी हैं।

घेराबंदी कर पुलिस ने तीनों को दबोचा

सूचना पर टीम ने ट्रांसपोर्ट नगर को जाने वाले तिराहे पर पहुंचकर बैरियर लगाकर चेकिंग शुरू कर दी। कुछ देर बाद नहर की तरफ से एक कार आती दिखाई दी। जिसको पुलिस टीम ने रुकने का इशारा किया। लेकिन, आरोपी कार को मोड़कर भागने की कोशिश करने लगे। कुछ दूरी पर पुलिस टीम ने घेराबंदी कर कार समेत तीन आरोपियों को दबोच लिया। जिनकी शिनाख्त नितिश भाटी उर्फ धोनी निवासी गांव मल्लपुर थाना सिकंदराबाद, आसिफ उर्फ आशीष उर्फ बंसल निवासाी चोटपुर कालोनी बहलोलपुर थाना छिजारसी और दीपक नागर निवासी गांव कचैड़ा थाना बादलपुर गौतमबुद्धनगर के रुप में हुई। साथ ही आरोपियों के पास से दो 9 एमएम की पिस्टल व एक 32 बोर की पिस्टल के अलावा कारतूस बरामद किए गए हैं। साथ ही वारदात में प्रयुक्त कार भी पुलिस ने आरोपियों के कब्जे से ले ली है।