शहर इमाम बोले-पूर्व चेयरमैन के बेटों को फंसा रही पुलिस:एसपी ने सीओ को सौंपी जांच, कहा-मुकदमा फर्जी निकलने पर होगी कार्रवाई

बुलंदशहर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
बुलंदशहर में पूर्व चेयरमैन के बेटों पर दर्ज हुए मुकदमे की जांच सीओ करेंगे। - Dainik Bhaskar
बुलंदशहर में पूर्व चेयरमैन के बेटों पर दर्ज हुए मुकदमे की जांच सीओ करेंगे।

जहांगीराबाद नगर पालिका के पूर्व चेयरमैन इकबाल अहमद उर्फ भुल्ला मियां के पुत्रों पर रंगदारी का मुकदमा लगाने के मामले में अब खुद कोतवाली पुलिस फंस गई है। एसएसपी ने पूरे मामले को गंभीरता से लेते हुए मामले की जांच सीओ अनूपशहर को सौंपी है। जांच में फर्जी मुकदमा पाया जाने पर वादी और कोतवाली पुलिस के खिलाफ कार्रवाई का आश्वासन दिया गया है।

शहर इमाम कलीम उर्र रहमान के नेतृत्व में पूर्व चेयरमैन के पुत्र अनवार अहमद, इकरार अहमद और इरफान अहमद मंगलवार को एसएसपी श्लोक कुमार से मिले। बताया कि कस्बा निवासी जुबैर अहमद ने स्थानीय पुलिस की सांठगांठ से उनके खिलाफ रंगदारी का फर्जी मुकदमा दर्ज कराया है।

एसपी से मिलने पहुंच शहर इमाम।
एसपी से मिलने पहुंच शहर इमाम।

पुलिस से सांठगांठ कर फंसाने का आरोप

जिन व्यक्तियों को आधार बनाकर मुकदमा दर्ज कराया गया है, उन्होंने शपथपत्र देकर इसमें किसी भी प्रकार से शामिल होने से मना किया है। आरोप है कि जुबैर स्थानीय पुलिस की सांठगांठ से उनकी ही जगह पर अवैध कब्जा कर रहा है। शहर इमाम कलीम उर्र रहमान और पूर्व चेयरमैन के पुत्रों की शिकायत पर एसएसपी ने कोतवाली जहांगीराबाद से जांच को सीओ अनूपशहर को स्थानांतरित कर दिया है।

एसएसपी बोले-जांच के बाद होगी कार्रवाई

एसएसपी श्लोक कुमार का कहना है कि जांच को कोतवाली जहांगीराबाद पुलिस से हटाकर सीओ अनूपशहर को सौंपा गया है। यदि जांच में आरोप सही पाए जाते हैं और फर्जी मुकदमा दर्ज पाया जाता है तो कोतवाली पुलिस और वादी पर कार्रवाई होगी।

खबरें और भी हैं...